मतदाता सूची के पुनरीक्षण सम्बन्धी कार्य निर्धारित समय में पूर्ण हों : एडीएम
मतदाता सूची के पुनरीक्षण सम्बन्धी कार्य निर्धारित समय में पूर्ण हों : एडीएम
उत्तर-प्रदेश

मतदाता सूची के पुनरीक्षण सम्बन्धी कार्य निर्धारित समय में पूर्ण हों : एडीएम

news

झांसी, 22 सितम्बर (हि.स.)। त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन 2020 के लिए मतदाता सूची के वृहद्व पुनरीक्षण सम्बन्धी बैठक मंगलवार को विकास भवन सभागार में आयोजित की गई। बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत व अपर जिलाधिकारी प्रशासन बी प्रसाद ने सभी एसडीएम, तहसीलदार, खण्ड विकास अधिकारी तथा एडीओ पंचायत को निर्देश दिये कि अपने-अपने क्षेत्र में बीएलओ की डयूटी सुनिश्चित कर ली जाये और प्रत्येक न्याय पंचायत स्तर पर पर्यवेक्षकों की डयूटी निर्धारित कर दी जाये। उन्होंने बताया कि प्रत्येक मतदान केन्द्र पर एक बीएलओ की नियुक्ति की जाये। यदि मतदान केन्द्र पर 3 हजार से अधिक मतदाता होने की स्थिति में दो बीएलओ की नियुक्ति की जाये और नियुक्त बीएलओ को यथासम्भव मतदान स्थल आवंटित किये जाये। प्रत्येक न्याय पंचायत स्थल पर एक पर्यवेक्षक, किन्तु 20 से अधिक मतदान स्थल वाले न्याय पंचायत में दो पर्यवेक्षक नियुक्त किये जा सकते है। पर्यवेक्षक तथा बीएलओ का प्रशिक्षण विकास खण्ड स्तर पर सम्बन्धित उप जिलाधिकारी तथा खण्ड विकास अधिकारी द्वारा दिया जायेगा। बीएलओ द्वारा उपलब्ध कराई गई मतदाता सूची के साथ डोर-टू-डोर सर्वे किया जायेगा। 01 जनवरी 2020 तक 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके युवक-युवतियों जिनके नाम उपलब्ध कराई गये पंचायत मतदाता सूची में दर्ज नहीं है परिवर्धन के लिए तथा यथास्थिति संशोधन व अपमार्जन के लिए निर्वाचक गणना कार्ड पर दर्ज किया जायेगा। मतदाता का स्वेच्छा से दिये मोबाइल नम्बर की सूचना दर्ज की जायेगी। निर्वाचक कार्ड के आधार पर बीएलओ के माध्यम से परिवर्धन, संशोधन एवं अपमार्जन सूची तैयार की जायेगी। प्रत्येक ग्राम पंचायत की कम्प्यूटरीकृत अद्यतन सूची जारी करते हुये ग्राम पंचायत कार्यालय, विकास खण्ड कार्यालय, सहायक निर्वाचक रजिस्ट्ररीकरण अधिकारी तथा निर्वाचक रजिस्ट्ररीकरण अधिकारी के कार्यालय पर प्रदर्शित किया जायेगा। बैठक में समस्त उपजिलाधिकारी, तहसीलदार, खण्ड विकास अधिकारी तथा एडीओ पंचायत उपस्थित रहे। 1 अक्टूबर से 5 नवम्बर तक मतदाता कार्ड के लिए होगें ऑन लाइन आवेदन अपर जिलाधिकारी ने पुनरीक्षण के सम्बन्ध में जानकारी देते हुये बताया कि 30 सितम्बर तक बीएलओ एवं पर्यवेक्षकों को कार्यक्षेत्र का आवंटन, 01 अक्टूबर से 12 नवम्बर तक बीएलओ द्वारा घर-घर जाकर गणन एवं सर्वेक्षण कार्य किया जायेगा। 01 अक्टूबर से 05 नवम्बर तक आनलाइन आवेदन करने की अवधि रहेगी और 06 से 12 नवम्बर तक आनलाइन आवेदन पत्रों की घर-घर जाकर जांच की जायेगी। 13 नवम्बर से 05 दिसम्बर तक ड्राफ्ट नामावलियों की कम्प्यूटरीकृत सूची तैयार कर 06 दिसम्बर को मतदाता सूची प्रकाशित की जायेगी। 06 से 12 दिसम्बर तक प्रकाशित निर्वाचक नामावलियों का निरीक्षण तथा दावे एवं आपत्तियां प्राप्त की जायेगी। 13 से 19 दिसम्बर तक दावे एवं आपत्तियां का निस्तारण कर 20 से 28 दिसम्बर तक निस्तारण के उपरान्त पूरक सूचियों की तैयारी करने की कार्यवाही की जायेगी तथा अन्तिम प्रकाशन 29 दिसम्बर 2020को किया जायेगा। हिन्दुस्थान समाचार/महेश/मोहित-hindusthansamachar.in