भूख हड़ताल पर बैठे दिव्यांग नेता को पुलिस ने न्याय के लिए दिया आश्वासन
भूख हड़ताल पर बैठे दिव्यांग नेता को पुलिस ने न्याय के लिए दिया आश्वासन
उत्तर-प्रदेश

भूख हड़ताल पर बैठे दिव्यांग नेता को पुलिस ने न्याय के लिए दिया आश्वासन

news

-पड़ोसी पर लगाया पीड़ित करने का आरोप फतेहपुर, 16 अक्टूबर (हि.स.)। पड़ोसियों की दबंगई से परेशान एक दिव्यांग गांधी प्रतिमा के पास भूख हड़ताल पर बैठ गए। दिव्यांग नेता को पुलिस ने न्याय दिए जाने के आश्वासन के बाद वापस लौटाया। पुलिस ने कहा के निश्चित रूप से उन्हें न्याय दिलाया जाएगा। दिव्यांग नेता का आरोप था कि उनका पड़ोसी उन्हें परेशान कर रहा है। शुक्रवार को अमर शहीद चंद्र शेखर आजाद दिव्यांग कल्याण सहायता समिति के अध्यक्ष जितेंद्र कुमार मिश्र उर्फ अष्टावक्र नगर के गांधी चौराहे में गांधी की प्रतिमा के पास पहुंचे और भूख हड़ताल में जाने की बात कही। दिव्यांग नेता की बात सुनकर मौके पर मौजूद पुलिस हरकत में आई उन्होंने इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी। इस मामले की जानकारी मिलते ही कस्बा इंचार्ज पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे तथा भूख हड़ताल में बैठने जा रहे जितेंद्र कुमार मिश्र उर्फ अष्टावक्र से उनकी समस्या पूछी। दिव्यांग नेता ने पुलिस से बताया कि उनके पड़ोसी श्रीकांत ने उनके घर की तरफ रेलिंग में जालीदार ग्रिल लगाई है जिसके कारण यदि उनके क्षेत्र में कोई खड़ा होता है या बढ़ता है तो उनके घर का बरामदा दिखाई देता है जिसके चलते उन्हें खराब महसूस होता है। ऐसी स्थिति में कई बार कहा गया कि जालीदार ग्रिल के स्थान पर ईंट की सीधी दीवार है। छत तक खड़ी कर दी जाए लेकिन अभी तक यह काम अधूरा हुआ है जिसके चलते उन्हें मानसिक परेशानी होती है। उनके घर में महिलाएं हैं। पुलिस ने दिव्यांग नेता को आश्वासन दिया कि उनको न्याय दिलाया जाएगा। पड़ोसी से भी इस मामले में बात की जाएगी ताकि इस समस्या का हल हो सके। हिन्दुस्थान समाचार/देवेन्द्र/राजेश-hindusthansamachar.in