भाजपा सरकार ने निजीकरण से युवाओं के रोजगार के अवसरों तक को बेच डाला : अखिलेश
भाजपा सरकार ने निजीकरण से युवाओं के रोजगार के अवसरों तक को बेच डाला : अखिलेश
उत्तर-प्रदेश

भाजपा सरकार ने निजीकरण से युवाओं के रोजगार के अवसरों तक को बेच डाला : अखिलेश

news

लखनऊ, 10 सितम्बर (हि.स.)। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने निजीकरण को लेकर एक बार फिर भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि सरकार ने निजीकरण से युवाओं के रोजगार के अवसरों तक को बेच डाला है। अखिलेश ने गुरुवार को ट्वीट किया कि समझ नहीं आता भाजपा सरकार चला रही है या देश के साधनों और संसाधनों का बाजार लगा रही है। इन्होंने प्रदेश-देश में टोल, मंडी, सरकारी मॉल, आईटीआई, पॉलीटेक्निक, हवाई अड्डा, रेल के साथ-साथ बीमा कंपनी और निजीकरण से युवाओं के रोजगार के अवसरों तक को बेच डाला है। इस ट्वीट के साथ अखिलेश ने बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर बुधवार रात घर की बिजली बंद कर जलती मोमबत्ती के साथ अपने तस्वीर भी पोस्ट की। इससे पहले आज एक अन्य ट्वीट में अखिलेश ने पार्टी के बुधवार को किए गए प्रदर्शन को लेकर कहा कि शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात रखने वाले युवा समाजवादी सिपाहियों पर लाठीचार्ज करवाने वाली भाजपा के दिन लद गए हैं। बेरोजगारों की जायज मांग उठाने वालों के खिलाफ ये कायराना हरकत है। ये हिंसक कार्रवाई हर क्षेत्र में नाकाम साबित हो चुकी भाजपा की हताशा का प्रतीक है। अखिलेश ने इससे सम्बन्धित तस्वीरें भी पोस्ट की। दरअसल बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर अखिलेश यादव ने बुधवार रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की बिजली बंद करने का आह्वान किया था। उनकी इस अपील को लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने 1090 चौराहे से कैंडल मार्च निकाला। इसके बाद सभी मुख्यमंत्री आवास की तरफ जाने लगे। इस पर गौतमपल्ली पुलिस ने उन्हें रोका तो कार्यकर्ता धक्का मुक्की करने लगे। पुलिस ने लाठीचार्ज कर उन्हें वहां से खदेड़ा। सपा की तीन महिला कार्यकर्ताओं के मुख्यमंत्री आवास की तरफ निकलने पर महिला पुलिस को बुलाकर उन्हें हिरासत में लिया गया। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/ रामानुज-hindusthansamachar.in