बुन्देलखंड की दुग्ध समितियों के कायाकल्प को 72 लाख का बजट अवमुक्त
बुन्देलखंड की दुग्ध समितियों के कायाकल्प को 72 लाख का बजट अवमुक्त
उत्तर-प्रदेश

बुन्देलखंड की दुग्ध समितियों के कायाकल्प को 72 लाख का बजट अवमुक्त

news

हमीरपुर, 07 सितम्बर (हि.स.)। शासन ने बुन्देलखण्ड में दुग्ध उत्पादन बढ़ाने हेतु दुग्ध समितियों के पुर्नगठन, सुदृढ़ीकरण, विस्तार एवं तकनीकी निवेश योजना के अन्तर्गत 72 लाख का बजट दुग्ध विभाग को आवंटित कर दिया है। जिसमें हमीरपुर को 3.30 लाख, महोबा को 60 हजार, बांदा को 3.20 लाख, चित्रकूट को 26.60 लाख, झांसी को 17.30 लाख, जालौन को 5.10 लाख, ललितपुर को 16 लाख की धनराशि प्रथम किश्त के रूप में आवंटित की गयी है। गौरतलब है कि इस योजना के अन्तर्गत दुग्ध उत्पादन में दुग्ध उपादक सदस्यों की भागीदारी बढ़ाने के लिये दुग्ध समितियों को वित्तीय सहायता उपलब्ध कराये जाने की शासन ने व्यवस्था की है। इसके अन्तर्गत ग्रामीण अंचलों में दुग्ध सहकारी समितियों को गठित व बन्द दुग्ध समितियों को पुनर्गठन कर ग्रामीण दुग्ध समितियों को संचालित करने के लिये अनुदान एवं समितियों पर वांछित अन्य आवश्यक उपकरण वाहन, दुग्धशाला की स्थापना, विस्तार एवं भूमि क्रय की भी व्यवस्था की गयी है। वहीं तकनीकी निवेश के अन्तर्गत समस्त दुग्ध समितियों के दुग्ध उत्पादकों के दुधारू पशुओं को तकनीकी निवेश सुविधायें भी चलाये जा रहे हैं। शासन ने गठित दुग्ध समितियों के पुर्नगठन, सुदृढ़ीकरण एवं विस्तार हेतु जिला योजना सामान्य के अन्तर्गत उप दुग्ध विकास अधिकारी-दुग्धशाला विकास अधिकारी हमीरपुर को 1 लाख 30 हजार रुपये, जनपद महोबा को 40 हजार रुपये, बॉदा को 1 लाख 25 हजार रुपये, चित्रकूट को 10 लाख 59 हजार रुपये, झांसी को 6 लाख 93 रुपये, जालौन को 1 लाख 90 हजार 400 रुपये एवं ललितपुर को 6 लाख 40 हजार रुपये कुल 28 लाख 77 हजार 400 रुपये एवं जिला योजना एससीपी योजना अन्तर्गत हमीरपुर को 1 लाख 73 हजार 334 रुपये, जनपद महोबा को 17 हजार 841 रुपये, बॉदा को 1 लाख 73 हजार 722 रुपये, चित्रकूट को 14 लाख 5 हजार 170 रुपये, झांसी को 9 लाख 7 हजार 98 रुपये, जालौन को 2 लाख 82 हजार 728 रुपये एवं ललितपुर को 8 लाख 43 हजार 835 रुपये कुल 38 लाख ३ हजार 738 रुपये का बजट आवंटित किया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज/विद्या कान्त-hindusthansamachar.in