बुनकर सरदार मोहम्मद मुर्तुज़ा नही रहे,मंगलवार को होंगे सुपुर्देखाक, गमजदा हुए बुनकर
बुनकर सरदार मोहम्मद मुर्तुज़ा नही रहे,मंगलवार को होंगे सुपुर्देखाक, गमजदा हुए बुनकर
उत्तर-प्रदेश

बुनकर सरदार मोहम्मद मुर्तुज़ा नही रहे,मंगलवार को होंगे सुपुर्देखाक, गमजदा हुए बुनकर

news

वाराणसी,16 अक्टूबर (हि.स.)। वाराणसी के बुनकर बिरादराना तंजीम पांचों के सरदार मोहम्मद मुर्तुज़ा नही रहे। शुक्रवार की शाम 84 वर्षीय सरदार ने छित्तनपुरा स्थित अपने आवास पर अंतिम सांस ली। वे पिछले कई महीनों से अस्वस्थ चल रहे थे। बीमारी के बावजूद बुनकरों की बेहतरी के लिए जागरूक रहते थे। उनके इंतकाल की जानकारी पाते ही बुनकर और विभिन्न दलों के नेता आवास पर शोक जताने पहुंच गये। शोक संवेदना जताने के दौरान पार्षद हाजी ओकास अंसारी ने कहा कि मुर्तुज़ा सरदार के इंतेक़ाल से बुनकर समाज को बहुत ही गहरा धक्का लगा है। पूरे समाज ने एक मजबूत स्तम्भ को आज खो दिया। अल्लाह उनको जन्नत नसीब अता करे। पार्षद ने बताया कि शनिवार को अपरान्ह दो बजे सरदार को सुपुर्दे ख़ाक किया जायेगा। जनाजे की नमाज इमलिया तल्ले मैदान में पढ़ी जायेगी। मिटटी हनुमान फाटक नवापुरा स्थित उनके कब्रिस्तान में पड़ेगी। सरदार अपने पीछे तीन पुत्र और एक बेटी छोड़ गये है। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर-hindusthansamachar.in