बांदा के महिला अस्पताल को मिला कायाकल्प पुरस्कार
बांदा के महिला अस्पताल को मिला कायाकल्प पुरस्कार
उत्तर-प्रदेश

बांदा के महिला अस्पताल को मिला कायाकल्प पुरस्कार

news

बांदा, 15 अक्टूबर (हि.स.)। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा पहली बार जिला महिला अस्पताल को राष्ट्रीय कायाकल्प पुरस्कार से नवाजा गया है। पुरस्कार के रूप में मिले तीन लाख रूपए से यहां स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को और बेहतर किया जाएगा। अस्पताल परिसर में पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित कर यहां तैनात डाक्टर, नर्स व कर्मियों को सम्मानित किया गया। अपर स्वास्थ्य निदेशक डा. आरबी गौतम ने कहा कि यह तभी संभव हुआ है, जब सभी स्वास्थ्यकर्मी एकजुट होकर पूरे लगन के साथ अस्पताल परिसर को स्वच्छ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इसके अलावा जरूरतमंद रोगियों को सही इलाज व परामर्श देने में सकारात्मक भूमिका दिखी है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने पीएचसी, सीएचसी व जिला अस्पताल के बेहतर रख रखाव, हेल्थ एंड सैनिटेशन, मरीजों से बेहतर व सहयोगी व्यवहार आदि मानक का उत्तम दर्जा प्राप्त करने वाले संस्थान को हर साल कायाकल्प अवार्ड दिया जाता है। उन्होंने अस्पताल में तैनात डाक्टर, नर्स, एएनएम सहित स्टाफ को प्रमाण पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। क्वालिटी एश्यारेंस की मंडलीय सलाहकार डा. तरन्नुम सिद्दीकी ने कहा कि राज्य स्तरीय टीमों ने कई बार यहां आकर निर्धारित मानको परखा था। अस्पताल के भीतर व परिसर की साफ-सफाई, मरीजों की मिलने वाली सुविधाएं, टीकाकरण के सभी रजिस्टर की अद्यतन जांच के अलावा संस्थागत प्रसव कार्य को जांच में टीम ने उम्दा पाया था।। इसके साथ ही मरीजों की बैठने व रहने की व्यवस्था टीम के द्वारा जांच में सही पाया गया था। असेसमेंट में जनपद को 76.7 फीसदी अंक प्राप्त हुए हैं। उन्होंने बताया कि जिला महिला अस्पताल को पहली बार यह अवार्ड मिला है। इस अवसर पर सीएमएस डा. ऊषा सिंह, अस्पताल प्रबंधक डा. प्रमोद, डा. चारू गौतम, डा. शबीना, हेमंत कुमार, जावेद खान सहित स्टाफ उपस्थित रहा। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल/मोहित-hindusthansamachar.in