बलिया कांड : मुख्य आरोपित धीरेन्द्र के मददगारों की तलाश में पुलिस-एडीजी प्रशांत कुमार
बलिया कांड : मुख्य आरोपित धीरेन्द्र के मददगारों की तलाश में पुलिस-एडीजी प्रशांत कुमार
उत्तर-प्रदेश

बलिया कांड : मुख्य आरोपित धीरेन्द्र के मददगारों की तलाश में पुलिस-एडीजी प्रशांत कुमार

news

लखनऊ, 18 अक्टूबर (हि.स.)। प्रदेश के एडीजी (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा कि बलिया कांड के मुख्य आरोपित को यूपी एसटीएफ की टीम ने पॉलीटेक्निक के पास से गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि इस मामले में पुलिस महानिदेशक हितेश चन्द्र अवस्थी के निर्देश पर एसटीएफ की टीम जांच कर रही थी। पकड़ा गया अभियुक्त 50 हजार रुपये का इनामी है। इस मामले में आठ लोग नामजद थे। इस घटना से जुड़े सभी आरोपितों पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित था। मुख्य आरोपित धीरेन्द्र सहित कुल पांच अपराधी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। अब मुख्य आरोपित को बलिया पुलिस के सुपुर्द किया जायेगा। साथ ही लखनऊ में ये कहा छिपा हुआ था। कौन लोग इसके मददगार रहे, तमाम ऐसे सवाल है, जिन्हें लेकर इससे अब पूछताछ होगी। आरोपित को मिले फांसी की सजा आरोपित धीरेन्द्र के पकड़े जाने के बाद पीड़ित परिवार ने अब पुलिस से यह गुहार लगाई है कि आरोपित को कड़ी से कड़ी सजा मिले। मृतक की पत्नी बोली कि जिसने मेरे पति की हत्या की है उसे फांसी की सजा मिले। परिवार के सुरक्षा, नौकरी दी जाये। 50 लाख रुपये का मुआवाज और बच्चों की पढ़ाई का खर्च सरकार उठाए यह सब मांगे परिवार की ओर से की गयी है। वहीं, आरोपित का परिवार मामले की सीबीआई जांच चाहता है। इसके साथ ही परिवार नार्को टेस्ट कराये जाने की मांग कर रहा है। निलंबित हुए थे अफसर बलिया कांड की घटना को योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान में लेकर कड़ा रुख अपनाते हुए एसडीएम व सीओ सहित थाना के आठ पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था। वहीं, इस घटना में फरार बदमाशों पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। इस मामले की जांच यूपी एसटीएफ की टीम कर रही थी। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक/दीपक-hindusthansamachar.in