फीस जमा न करने पर कई छात्रों को कर दिया व्हाट्सएप ग्रुप से रिमूव, अभिभावकों का हंगामा
फीस जमा न करने पर कई छात्रों को कर दिया व्हाट्सएप ग्रुप से रिमूव, अभिभावकों का हंगामा
उत्तर-प्रदेश

फीस जमा न करने पर कई छात्रों को कर दिया व्हाट्सएप ग्रुप से रिमूव, अभिभावकों का हंगामा

news

मेरठ 10 सितम्बर (हि. स.)। कोरोना काल में प्राइवेट स्कूलों द्वारा छात्र-छात्राओं के अभिभावकों पर फीस जमा कराने को लेकर तमाम तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। ताजा मामला जिले के एक प्रतिष्ठित स्कूल का है। जहां गुरुवार को फीस जमा ना होने पर कई छात्रों को ऑनलाइन क्लास के व्हाट्सएप ग्रुप से रिमूव कर दिया गया जिसके बाद छात्रों के परिजनों ने स्कूल के बाहर हंगामा कर दिया। हालांकि स्कूल संचालकों ने किसी भी छात्र के अभिभावक पर फीस के लिए दबाव ना बनाए जाने की बात कही है। कैंट स्थित दर्शन एकेडमी में पढ़ने वाले कई छात्रों के अभिभावकों का आरोप है कि गुरुवार की सुबह उनके बच्चों को अचानक ऑनलाइन क्लास के व्हाट्सएप ग्रुप से रिमूव कर दिया गया। जानकारी करने पर अभिभावकों को बताया गया, क्योंकि उनके बच्चों की फीस जमा नहीं हुई, इसलिए बच्चों को ग्रुप से रिमूव किया गया है जिसके बाद अभिभावकों ने स्कूल के बाहर हंगामा कर दिया। अभिभावकों ने बताया कि स्कूल की परीक्षाएं चल रही हैं। ऐसे में उनके बच्चों के नाम स्कूल से काटकर उनका भविष्य खराब किया जा रहा है। अभिभावकों ने स्कूल संचालकों पर मनमानी फीस भी वसूलने का आरोप लगाया। इसी के साथ कोरोना काल में सभी की मजबूरी समझते हुए फीस में रियायत दिए जाने की मांग की। हालांकि, इसके बावजूद उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद मजबूरी में कई अभिभावकों ने किसी तरह इंतजाम करके तत्काल स्कूल की फीस जमा कराई। उधर स्कूल के संचालकों ने आरोपों को नकारते हुए किसी पर दबाव ना बनाए जाने की बात कही है। हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप/रामानुज-hindusthansamachar.in