प्रयागराज व महोबा के निलम्बित पुलिस कप्तानों की सम्पत्तियों की भी होगी विजलेंस जांच
प्रयागराज व महोबा के निलम्बित पुलिस कप्तानों की सम्पत्तियों की भी होगी विजलेंस जांच
उत्तर-प्रदेश

प्रयागराज व महोबा के निलम्बित पुलिस कप्तानों की सम्पत्तियों की भी होगी विजलेंस जांच

news

-भ्रष्टाचार के मामलों में मुख्यमंत्री का और अधिक कड़ा रुख -दोनों अधिकारियों की अनियमितताओं में शामिल पुलिस कर्मियों की डीजीपी कराएंगे अलग से जांच लखनऊ, 10 सितम्बर (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रशासनिक अनियमितता एवं भ्रष्टाचार के मामलों में और अधिक कड़ा रुख अपनाते हुये प्रयागराज के निलम्बित वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक दीक्षित तथा महोबा के निलम्बित पुलिस अधीक्षक मणि लाल पाटीदार की सम्पत्तियों की जांच विजलेंस के माध्यम से कराये जाने के निर्देश दिये हैं। गृह विभाग के प्रवक्ता ने गुरुवार को बताया कि मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिये हैं कि निलम्बित अधिकारियों द्वारा की गयी अनियमितताओं में संलिप्त पुलिस कर्मियों की अलग से जांच कर उन्हें जल्द दण्डित कराया जाए। शासन ने इस सम्बन्ध में पुलिस महानिदेशक को अपेक्षित कार्यवाही के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस महकमे में फैले भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त रवैया अपनाते हुए बुधवार को महोबा के पुलिस अधीक्षक मणि लाल पाटीदार को निलम्बित कर दिया था। इस कार्रवाई के बाद लखनऊ के पुलिस उपायुक्त अरुण श्रीवास्तव को महोबा का नया पुलिस अधीक्षक बनाया गया है। वहीं इससे पहले मंगलवार को प्रयागराज के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक दीक्षित को भी निलम्बित कर दिया था। हिन्दुस्थान समाचार/संजय-hindusthansamachar.in