प्रमुख सचिव आयुष को एसीपी लाभ देने पर निर्णय लेने का निर्देश
प्रमुख सचिव आयुष को एसीपी लाभ देने पर निर्णय लेने का निर्देश
उत्तर-प्रदेश

प्रमुख सचिव आयुष को एसीपी लाभ देने पर निर्णय लेने का निर्देश

news

प्रयागराज, 07 सितम्बर (हि.स.)। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रमुख सचिव आयुष विभाग को 28 वर्ष की सेवा करके सेवानिवृत्त हुए याचियो को तृतीय एसीपी का लाभ देने के मामले में तीन माह मे निर्णय लेने का निर्देश दिया है। यह आदेश न्यायमूर्ति प्रकाश पाडिया ने वाराणसी के हरेन्द्र राय व अन्य की याचिका पर दिया है। याचिका पर अधिवक्ता राघवेन्द्र प्रसाद मिश्र ने बहस की। इनका कहना था कि याचीगण 1988 से 1992 के बीच आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी के पद पर अस्थायी रूप से नियुक्त हुए। इन्हें 2005 में नियमित किया गया और लंबी सेवा के बाद याचीगण ने सेवावकाश ग्रहण किया। याचियों के साथ के चिकित्सकों को तृतीय एसीपी का लाभ दिया गया, किन्तु याचीगण को नहीं दिया गया। कोर्ट ने याची को दो हफ्ते में प्रमुख सचिव को प्रत्यावेदन देने और उसे अगले तीन माह में प्रमुख सचिव को इसे निर्णीत करने का निर्देश दिया है। हिन्दुस्थान समाचार/आर.एन/दीपक-hindusthansamachar.in