प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से 1114 पटरी दुकानदारों को मिला ऋण : डीएम
प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से 1114 पटरी दुकानदारों को मिला ऋण : डीएम
उत्तर-प्रदेश

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से 1114 पटरी दुकानदारों को मिला ऋण : डीएम

news

प्रतापगढ़, 27 अक्टूबर (हि.स.)। जनपद मुख्यालय स्थिति एनआईसी सभागार में मंगलवार को प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अन्तर्गत प्रधानमंत्री का सजीव प्रसारण दिखाया गया। संवाद के दौरान पटरी दुकानदारों ने बताया कि आज तक ऐसा कभी सपने में भी नही सोचा था कि, देश के प्रधानमंत्री पटरी दुकानदारों से सीधा संवाद करेंगें। इस दौरान 1114 पटरी दुकानदारों को ऋण वितरित किया गया। जिलाधिकारी डॉ. रूपेश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेण्डर्स आत्मनिर्भर निधि योजना के अन्तर्गत आनलाइन आवेदन पत्र भरे जाते है और लाभार्थियों को 10 हजार रूपये का ऋण उपलब्ध कराया जाता है। जनपद में पटरी दुकानदार द्वारा पीएम स्वनिधि योजना के आनलाइन भरे गये 2926 आवेदन हैं और बैंकों द्वारा 1581 आवेदन स्वीकृत किये गये हैं। जिनमें से बैंकों द्वारा 1114 लाभार्थियों को ऋण प्रदान किया गया है। इस योजना के तहत नगर पालिका परिषद बेल्हा प्रतापगढ़ के 473, नगर पंचायत रानीगंज के 209, नगर पंचायत लालगंज के 96, नगर पंचायत कटरा मेंदनीगंज 11, नगर पंचायत अन्तू 27, नगर पंचायत पट्टी 57, नगर पंचायत प्रतापगढ़ सिटी 34, नगर पंचायत मानिकपुर 84 व नगर पंचायत कुण्डा 123 लाभार्थियों को ऋण प्रदान किया गया है। इस योजना के अन्तर्गत पटरी दुकानदार को लाभान्वित किया जाता है। इस धनराशि पर कोई भी जमानत की आवश्यकता नहीं होती। प्रदेश सरकार द्वारा स्टाम्प की ड्यूटी से भी इस योजना को मुक्त रखा गया है। प्रतिमाह ऋण किस्त का नियमित भुगतान करने पर सरकार द्वारा सात प्रतिशत की सब्सिडी प्रदान की जाती है। इस योजना के अन्तर्गत डिजिटल लेन-देन करने पर लाभार्थी को प्रतिमाह 100 रूपये की धनराशि उनके खाते में उपलब्ध करायी जाती है। पीएम स्वनिधि योजना के अन्तर्गत नगर पालिका परिषद बेल्हा एवं नगर पंचायतों में भी पटरी दुकानदारों को प्रधानमंत्री के सजीव प्रसारण का कार्यक्रम दिखाया गया। नगर पालिका परिषद बेल्हा में नगर पालिका अध्यक्ष प्रेमलता सिंह ने पटरी दुकानदारों को ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान किया। इसी प्रकार नगर पंचायतों में पटरी दुकानदारों को ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान किया गया। हिन्दुस्थान समाचार/दीपेन्द्र/विद्या कान्त-hindusthansamachar.in