पूर्व विधायक समेत दो लोगों पर जानलेवा हमले की साजिश रचने का आरोप तय
पूर्व विधायक समेत दो लोगों पर जानलेवा हमले की साजिश रचने का आरोप तय
उत्तर-प्रदेश

पूर्व विधायक समेत दो लोगों पर जानलेवा हमले की साजिश रचने का आरोप तय

news

बागपत, 10 सितम्बर (हि. स.)। जिले में पूर्व विधायक स्वर्गीय चंदर सिंह पर 22 साल पूर्व हुए जानलेवा हमले के मामले में गुरुवार को पूर्व विधायक मदन भैया समेत दो लोग अदालत में पेश हुए। उनके खिलाफ अदालत ने घटना की साजिश रचने का आरोप तय कर दिया है। एडीजीसी सुभाष तोमर के मुताबिक खेकड़ा ब्लाक के पूर्व प्रमुख रामकिशन गुर्जर व उनकी पत्नी की हत्या के केस में पैरवीं करने पर पूर्व विधायक स्वर्गीय चंदरसिंह पर 4 मार्च 1998 में फायरिंग की गई थी। वह घायल हो गए थे। इस मामले में बागपत कोतवाली पर पूर्व विधायक मदन भैया और उनके साथी नरेश निवासीगण जावली (गाजियाबाद) और शमशाद उर्फ काला निवासी मुजफ्फरनगर के खिलाफ मुकदमा ( धारा 307 व 120 बी आइपीसी) दर्ज कराया गया था। वर्ष 2017 में आरोपित शमशाद की मृत्यु हो गई थी। आरोपितों की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट से स्टे हो गया था। यह केस एडीजे एफटीसी प्रथम मिताली गोविंद राव की अदालत में चल रहा है। दोनों आरोपितों की गिरफ्तारी स्टे खत्म हो गया है। केस के आरोप तय संबंधित अदालत से दोनों आरोपितों को नोटिस भेजा गया था। दोनों आरोपित पूर्व विधायक मदन भैया व नरेश को अदालत में पेश किया। घटना की साजिश रचने का दोनों आरोपितों के खिलाफ अदालत ने आरोप तय किया। केस की गवाही के लिए अदालत ने 25 सितंबर की तिथि नियत की है। हिन्दुस्थान समाचार/गौरव/दीपक-hindusthansamachar.in