नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ प्रदर्शन के बीच कर्मचारी ने की आत्महत्या
नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ प्रदर्शन के बीच कर्मचारी ने की आत्महत्या
उत्तर-प्रदेश

नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ प्रदर्शन के बीच कर्मचारी ने की आत्महत्या

news

नोएडा, 17 सितम्बर (हि.स.)। नोएडा प्राधिकरण में ठेकेदारी प्रथा के विरुद्ध नोएडा के सफाई कर्मचारी लगातार धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच नोएडा प्राधिकरण में काम करने वाले एक मजदूर ने गुरुवार को आत्महत्या कर लिया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सफाई कर्मचारियों का आरोप है कि नोएडा प्राधिकरण के शोषण से त्रस्त होकर उसने आत्महत्या किया है। वहीं नोएडा प्राधिकरण निजी कारणों से आत्महत्या करने की बात कही है। नोएडा प्राधिकरण के वरिष्ठ परियोजना अभियंता जन स्वास्थ्य एससी मिश्रा ने बताया कि नोएडा प्राधिकरण के साथ एक कंपनी मैकेनिकल स्वैपिंग कम्पनी मैसर्स चेन्नई एमएसडबल्यू काम करती है। उसी में अनिल कुमार नाम का कर्मचारी कार्यरत था। जिसने अपने झुग्गी मोरना ड्रेन में आत्महत्या कर लिया है। अनिल कुमार के परिजनों द्वारा बताया गया कि उसने पारिवारिक एवं निजी कारणों से आत्महत्या की है। कंपनी से पता करने पर प्रोजेक्ट इंचार्ज अमित वर्मा ने अवगत कराया गया कि मृतक कर्मचारी बीते चार सितम्बर से कार्य से अनुपस्थित था। मिश्रा ने बताया कि अमित वर्मा ने आश्वस्त किया है कि परिवार को उचित आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी। साथ ही यदि उनके परिवार का कोई सदस्य इच्छुक हो तो मृतक अनिल के स्थान पर उन्हें मैसर्स चेन्नई एमएसडबल्यू कम्पनी में नौकरी दी जायेगी। उल्लेखनीय है कि नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ सेक्टर 6 स्थित कार्यालय पर सैंकड़ो की संख्या में सफाई कर्मचारी ने धरना दे रहे हैं। उनकी मांग है एक समान वेतन दिया जाए और ठेकेदारी प्रथा ख़त्म की जाए। हिन्दुस्थान समाचार/आदित्य/दीपक-hindusthansamachar.in