नालंदा विश्वविद्यालय के छात्रों ने की कुशीनगर में त्रिपिटक पूजा
नालंदा विश्वविद्यालय के छात्रों ने की कुशीनगर में त्रिपिटक पूजा
उत्तर-प्रदेश

नालंदा विश्वविद्यालय के छात्रों ने की कुशीनगर में त्रिपिटक पूजा

news

-विश्व शांति के लिए बुद्ध के उपदेश प्रासंगिक-रजनीकांत कुशीनगर,07 अक्टूबर(हि.स.)। नालन्दा व मगध विश्वविद्यालय के छात्रों ने शनिवार को विश्व शांति व जनकल्याण के लिए म्यांमार बौद्ध बिहार में त्रिपिटक पूजा शुरू की। तीन दिनों तक होने वाली इस पूजा का शुभारंभ कुशीनगर के विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी ने किया। विशेष पूजन के लिए शुभकामनाएं व्यक्त करते हुए विधायक ने कहा कि विश्व शांति के लिए बुद्ध के उपदेश वर्तमान समय में भी पूर्व की तरह ही प्रासंगिक हैं। बुद्ध के बताए मार्ग पर चलकर ही दुनिया में खुशहाली व शांति लाई जा सकती है। विशेष पूजा में 40 की संख्या में बौद्ध अध्ययन से जुड़े छात्र, भिक्षु व शोधार्थी भाग ले रहे हैं। पूजन में थाईलैंड व म्यांमार के भी बौद्ध भिक्षुओं की सहभागिता है। कुशीनगर भिक्षु संघ व त्रिपिटक चांटिंग काउंसिल के संयुक्त तत्वावधान में हो रही पूजा के शुरू होने से पहले बौद्ध धर्मगुरुओं ने त्रिपिटक सुत्त के माध्यम से दुनिया को विश्व बंधुत्व का संदेश दिया। अंतरराष्ट्रीय बौद्ध शोध संस्थान के पूर्व अध्यक्ष डा. भंते नंदरतन ने कहा कि यह त्रिपिटक सुत्त पाठ विश्व शांति व जनकल्याण के लिए किया जाता है। विशेष पूजा का निर्देशन अग्ग महापण्डित एबी ज्ञानेश्वर कर रहे हैं। कोविड-19 वायरस के प्रसार के कारण इस बर्ष पूजा का स्वरूप संक्षिप्त कर दिया गया है। पूजा के दौरान भिक्षु कोविड प्रोटोकाल का भी पालन कर रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/गोपाल/राजेश-hindusthansamachar.in