झांसी रेलवे ट्रैक पर मिले किशोर व युवक के शव
झांसी रेलवे ट्रैक पर मिले किशोर व युवक के शव
उत्तर-प्रदेश

झांसी रेलवे ट्रैक पर मिले किशोर व युवक के शव

news

— किशोर की मौत से घर का बुझा चिराग, दूसरे की नहीं हुई पहचान कानपुर, 18 अक्टूबर (हि.स.)। झांसी रेलवे ट्रैक पर रविवार को किशोर और युवक के शव पड़े मिलने से सनसनी फैल गई। किशोर की मौत से घर का चिराग बुझने से परिवार रो-रोकर बदहवास हो रहा है। वहीं दूसरे युवक की अभी तक पहचान न होने से घटना रहस्य बनी है। पुलिस प्रथम दृष्टया ट्रेन की चपेट में आने से दोनों की मौत की आशंका जता रही है, जबकि कुछ लोग हत्या के बाद शव फेंकने का भी संदेह जता रहे हैं। फिलहाल पुलिस ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई करने की बात कही है। बर्रा 7 निवासी सब्जी विक्रेता रामकिशन गुप्ता ने बताया कि छह बच्चों में 16 वर्षीय बेटा विकास बड़ा था। उससे बड़े बेटे की पांच साल पहले मौत हो गई थी, इसके बाद वह घर का सहारा था। शनिवार शाम सात बजे वह घर से निकला था लेकिन देर रात तक वापस नहीं आया। इस पर संदेह होने पर उसकी काफी तलाश की लेकिन कुछ पता नहीं चला था। रविवार सुबह दबौली वेस्ट के पास झांसी रेलवे ट्रैक पर दो शव मिलने से सनसनी फैल गई। इसकी जानकारी होने पर वह पहुंचे तो उन्होंने किशोर के शव की पहचान बेटे के रूप में की। उन्होंने पुलिस को बताया कि आखिरी बार शनिवार शाम को वह दुकान से बैट्री लेने घर आये थे तभी विकास घर से निकला था। बेटे की मौत की जानकारी पर मां माया देवी और बहन काजल भी घटनास्थल पहुंचे रोते हुए गश खाकर गिर पड़ीं। दूसरा शव पांच सौ मीटर दूर डाउन ट्रैक पर पड़ा मिला, जिसकी उम्र करीब 35 वर्ष होगी। प्राथमिक छानबीन में उसकी पहचान नहीं हो सकी है। वह लाल रंग की टीशर्ट और नीली जीन्स पहने था। फिलहाल पुलिस ट्रेन की चपेट में आने से हादसा मान रही है और दोनों के शवों के बीच कनेक्शन तलाश रही है। हिन्दुस्थान समाचार/महमूद/मोहित-hindusthansamachar.in