चित्रकूट मंडल में वैक्सीन आने की संभावनाएं तेज, तैयार हो रहे कक्ष
चित्रकूट मंडल में वैक्सीन आने की संभावनाएं तेज, तैयार हो रहे कक्ष
उत्तर-प्रदेश

चित्रकूट मंडल में वैक्सीन आने की संभावनाएं तेज, तैयार हो रहे कक्ष

news

- दो हफ्ते में आ जाएंगे आईएलआर, डीप फ्रीजर व अन्य उपकरण बांदा, 04 दिसम्बर (हि.स.)। कोरोना संक्रमण से निजात मिलने की संभावनाएं अब बढ़ गयी हैं। वैक्सीन रखने के लिए मंडल के चारों जनपदों में कक्ष निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। साथ ही आईएलआर (आइस लिंक रेफ्रीजरेटर) और डीप फ्रीजर आने वाले हैं। इसमें आईएलआर का तापमान शून्य से 8 डिग्री और डीप फ्रीजर में माइनस 20 डिग्री टेम्प्रेचर पर वैक्सीन को रखा जाएगा। वैक्सीन को लाने-ले जाने के लिए एक वैन भी तैयार होनी है। अनुमान है कि वैक्सीन जनवरी तक जिला स्वास्थ्य विभाग को मिल सकती है। इसके बाद वैक्सीनेशन का काम शुरू हो जाएगा। वैक्सीनेशन का काम होना है, इसके लिए प्रदेश सरकार से निर्देश भी मिल चुके हैं। बुंदेलखंड के तापमान पर वैक्सीन सुरक्षित रखना भी एक कड़ी चुनौती है। अपर निदेशक (स्वास्थ्य) डा. आरबी गौतम ने बताया कि परिवार कल्याण महानिदेशक का पत्र मिलने के बाद मंडल के सभी जनपदों में कोल्ड चेन बनाई जा रही है। हर जिले में वैक्सीन रखने से लेकर लाने ले जाने की व्यवस्था बनानी शुरू कर दीं गईं हैं। जल्द ही यह पूरी हो जाएगी। इसके बाद यहां आईएलआर व डीप फ्रीजर स्थापित किए जाएंगे। इसके अलावा अन्य उपकरण भी दो सप्ताह में आने की उम्मीद है। अपर निदेशक ने कहा कि वैक्सीन आने पर सबसे पहले स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े लोगों को लगेगी। इसके लिए सूची तैयार की जा चुकी है। अगले चरण की भी तैयारी के बारे में विचार चल रहा है। उन्होंने संभावना जताई है कि जनवरी तक वैक्सीन भी आ सकती है। तापमान बनाए रखने को लगाए जाएंगे लॉगर वैक्सीन को निर्धारित तापमान पर रखने के लिए फ्रीजर के तापमान की मॉनीटरिंग के लिए लॉगर लगाए जायेंगे। यह फ्रीज के अंदर का तापमान बताता है। प्रदेश भर में 1619 फ्रीजर में लॉगर इंस्टॉल है। मंडल में जो मशीनें लगाई जानी है, उनमें तापमान नापने के लिए लॉगर और बिजली जाने पर जनरेटर से बिजली सप्लाई दी जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल/मोहित-hindusthansamachar.in