चारबाग के नए पुल पर यात्रियों के लिए जल्द शुरू होगा लिफ्ट एस्कीलेटर
चारबाग के नए पुल पर यात्रियों के लिए जल्द शुरू होगा लिफ्ट एस्कीलेटर
उत्तर-प्रदेश

चारबाग के नए पुल पर यात्रियों के लिए जल्द शुरू होगा लिफ्ट एस्कीलेटर

news

लखनऊ, 31 जुलाई (हि.स.)। राजधानी लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर बने नए पैदल पुल पर लिफ्ट और एस्कीलेटर लगाने का कार्य पूरा हो गया है। इस पुल पर अगले महीने में यात्रियों के लिए लिफ्ट और एस्कीलेटर शुरू किया जाएगा। मंडल रेल प्रबन्धक संजय त्रिपाठी ने शुक्रवार को बताया कि लॉकडाउन में ही उत्तर रेलवे ने नए पैदल पुल पर लिफ्ट और एस्कीलेटर लगाने का कार्य पूरा कर लिया था। अब इसे अगले महीने से आम यात्रियों के लिए शुरू करने की तैयारी है। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी की वजह से जहां कई प्रोजेक्ट की रफ्तार धीमी हो गई है। वहीं चारबाग रेलवे स्टेशन के नए पैदल पुल पर अब फिनिशिंग का कार्य भी लगभग पूरा हो गया है। चारबाग रेलवे स्टेशन पर सामान्य दिनों में करीब 290 रेलगाड़ियां गुजरती हैं। यहां अब तक दो पुराने पैदल पुल से यात्रियों के बाहर जाने और स्टेशन परिसर में प्रवेश करने का भार है। रक्षाबन्धन, दीपावली, होली और गर्मियों की छुट्टियों में चारबाग रेलवे स्टेशन पर उमड़ने वाली भीड़ की वजह से यात्रियों को आने-जाने में दिक्कतें होती थीं। इसलिए रेलवे ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए 01 से 07 नम्बर प्लेटफार्म तक नया पैदल पुल बनाया है। यह पुल प्लेटफार्म नम्बर 01 पर रेल डाक सेवा के पास से शुरू होता है। इस पुल से दिलकुश छोर की तरफ से हर रेलगाड़ी के सात से आठ बोगियों के यात्री गुजरते हैं। रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए वाहनों से सीधे आकर प्लेटफार्म तक पहुंचने के लिए लिफ्ट और एस्कीलेटर लगवाया है। लिफ्ट और एस्कीलेटर का रेलवे के विद्युत अनुभाग ने ट्रायल भी कर लिया है। नए पैदल पुल पर लिफ्ट और एस्कीलेटर के शुरू होने से यात्रियों को प्लेटफार्म तक पहुंचने में बहुत आसानी होगी। इसके साथ ही चारबाग रेलवे स्टेशन पर तीन पैदल पुल हो जाने से यात्रियों की भीड़ भी बंट जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक/संजय-hindusthansamachar.in