चाचा के थे भतीजे की पत्नी अवैध सम्बन्ध, इसलिए हुई थी सोनू की हत्या
चाचा के थे भतीजे की पत्नी अवैध सम्बन्ध, इसलिए हुई थी सोनू की हत्या
उत्तर-प्रदेश

चाचा के थे भतीजे की पत्नी अवैध सम्बन्ध, इसलिए हुई थी सोनू की हत्या

news

- फरार दो आरोपियों की तलाश जारी अलीगढ़, 30 जुलाई (हि.स.)। अलीगढ़ के थाना लोधा इलाके के गांव आकरावत के रहने वाले सोनू की हत्या में गुरुवार को उसके चाचा सहित दो लोगो को पकड़कर जेल भेज दिया। सोनू की उसके चाचा ने अपने साथियों संग मिलकर कर इसलिए कि थी क्योंकि सोनू की पत्नी से आरोपी चाचा के अवैध सम्बंध थे। जिसमें सोनू बाधा बन रहा था। ये खुलासा पुलिस की पूछताछ के दौरान हुआ है। पुलिस का कहना है कि सोनू की पत्नी के खिलाफ सबूत मिलने पर वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। जानकारी का अनुसरण, बीती 28 जुलाई को अशोक कुमार पुत्र राम सिंह निवासी अकरावत ने बेटे सोनू के गुमशुदा होने की पुलिस को तहरीर दी थी। 29 जुलाई को अशोक कुमार ने पप्पू उर्फ भगवती पुत्र कालीचरन निवासी नगला धुन्धी थाना खैर, अनिल पुत्र देवीराम हरेन्द्र पुत्र देवीराम निवासीगण अकरावत, रोहित कुमार पुत्र बौध सिंह निवासी बिन्नोर थाना अतरौली के खिलाफ अपहरण कर हत्या किये जाने का शक जाहिर किया। इस पर थानाध्यक्ष रामवकील सिंह ने पप्पू उर्फ भगवती निवासी नगला धुन्धी पकड़ लिया और थाने ले आये। पप्पू उर्फ भगवती की निशानदेही पर सोनू की लाश अंडला के जंगलों मिली। इधर, अनिल पुत्र देवीराम निवासी अकरावत को एसआई कपिल सौलंकी ने चेकिंग के दौरान एक तंमचा व कारतूस के साथ गिरफ्तार करने का दावा किया है। पुलिस पूछताछ में अनिल ने बताया कि सोनू उसका भतीजा लगता है। उसकी पत्नी रीना से मेरे अवैध शारीरिक सम्बन्ध हो गये हैं।हम एक दूसरे को छोड़ना नहीं चाहते हैं। रीना का पति मृतक सोनू व अन्य परिवार वालों को इसकी जानकारी हो जाने के कारण हमारे बीच में अवरोधक बन रहे है। इसी कारण उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर प्लान के तहत निर्धारित स्थान पर बुलाया और सोनू गला घोंटकर हत्या कर दी। एसपी सीटी अभिषेक कुमत ने बताया कि सोनू की पत्नी से अनिल के सम्बन्ध होने की जानकारी दोनों आरोपियों के बयानों से हुई है।मृतक सोनू की पत्नी रीना के सम्बन्ध अनिल के होने के सम्बन्ध में गहराई से छानबीन की जा रही है। साक्ष्य के आधार पर मृतक सोनू की पत्नी रीना के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी। घटना में पप्पू उर्फ भगवती पुत्र कालीचरन निवासी ग्राम नगला धुन्धी और अनिल कुमार पुत्र देवी सिंह निवासी अकराबत को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया। जबकि रोहित कुमार पुत्र बौध सिंह निवासी बिन्नोर थाना अतरौली, हरेन्द्र पुत्र देवीराम निवासी अकरावत की तलाश जारी है। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में एसओ रामवकील सिंह, एसआई कपिल सौलंकी, सन्दीप राना, हैड कॉन्स्टेबल यदुवीर सिंह, कॉन्स्टेबल मौहम्मद दीन, रामरतन, घनश्याम शामिल रहे। हिन्दुस्थान समाचार/संजीव प्रताप/मोहित-hindusthansamachar.in