ग्रामीण इलाकों में अब शिक्षा की पहुंचेगी गाड़ी, बच्चों को घर बैठे मिलेगी मुफ्त शिक्षा
ग्रामीण इलाकों में अब शिक्षा की पहुंचेगी गाड़ी, बच्चों को घर बैठे मिलेगी मुफ्त शिक्षा
उत्तर-प्रदेश

ग्रामीण इलाकों में अब शिक्षा की पहुंचेगी गाड़ी, बच्चों को घर बैठे मिलेगी मुफ्त शिक्षा

news

-सृजन संस्था के तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम में एसडीएम ने शिक्षा की गाड़ी को दिखायी हरी झंडी हमीरपुर, 20 दिसम्बर (हि.स.)। शिक्षा, स्वास्थ्य एवं स्वरोजगार के क्षेत्र में अनूठी पहल करने वाली सामाजिक संस्था सृजन एक सोच ने अमूंद गांव में रविवार को एक और शिक्षा की गाड़ी का संचालन किया है। एसडीएम ने संस्था के फाउन्डर प्रभात सक्सेना, भूमि संरक्षण अधिकारी व गांव के प्रधान प्रतिनिधि ने फीता काटकर शिक्षा की गाड़ी को हरी झंडी संयुक्त रूप से दिखायी है। शिक्षा की यह गाड़ी कोरोना संक्रमण काल में गांव-गांव जाकर बच्चों को मुफ्त पढ़ायेगी। सरीला क्षेत्र के अमूंद गांव के जूनियर स्कूल में आज आयोजित कार्यक्रम में शिक्षा की गाड़ी का शुभारंभ करते हुये सरीला तहसील के एसडीएम जुबेर बेग ने कहा कि शिक्षा ही एक एसा हथियार है जिससे ज़िंदगी की बहुत सी जंग जीती जा सकती हैं। सृजन द्वारा शिक्षा की गाड़ी कोरोना काल में बच्चों की शिक्षा के लिए एक मील का पत्थर साबित होगी। संस्था के फ़ाउंडर प्रभात सक्सेना ने कहा क़ि गाँव गाँव तक शिक्षा की जो मुहिम उन्होंने चलाई है वो अनवरत चलती रहेगी। संस्था के आपरेशन हैड रविंद्र गुप्ता ने संस्था की सक्सेस स्टोरी बताई साथ ही कंट्री हेड विनय गुप्ता ने संस्था द्वारा किए जा रहे कामों को गिनाया। कार्यक्रम का संचालन शिवांक श्रीवास्तव ने किया। इस दौरान राजेंद्र गुप्ता, रवि गुप्ता,रामेंद्र शुक्ला, सर्वेश राजपूत,कपिल आर्य, विवेक, देवेंद्र,गोविंद, आदित्य, हरि , योगेश राठौर, पारुल सोनी,काजल गुप्ता, प्रज्ञा अग्रवाल, साक्षी,साधना,शिवानी व अंजली आदि मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/ पंकज/ मोहित-hindusthansamachar.in