गांवों में कोरोना की दस्तकः 50 केस मिलने के बाद फर्रूखनगर गांव हुआ सील
गांवों में कोरोना की दस्तकः 50 केस मिलने के बाद फर्रूखनगर गांव हुआ सील
उत्तर-प्रदेश

गांवों में कोरोना की दस्तकः 50 केस मिलने के बाद फर्रूखनगर गांव हुआ सील

news

-जीडीए व नगर निगम कर्मचारी भी मिले कारोना पाजिटिव -गांव में जगह-जगह लगाए गए अवरोध गाजियाबाद, 07 सितम्बर (हि.स.)। कोरोना संक्रमण थम नहीं पा रहा है और अब कोरोना संक्रमण ने ग्रामीण अंचलों में भी पैर पसारने शुरू कर दिए हैं। सोमवार को जहां जीडीए के कैशियर व नगर निगम के जलकल विभाग के एक कर्मचारी की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई वहीं लोनी के फर्रूखनगर में कोरोना संक्रमण के 50 मामलों की पुष्टि होने के बाद गांव पूरी तरह से सील कर दिया गया हैं और जगह-जगह बैरिकेड लगा दिए गए हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी चिंता में आ गए हैं। वजह ग्रामीण अंचलों में वैसी दूर तक सुविधाएं नहीं हैं जैसा शहरों में हैं। देश की राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद में अभी तक जरूरत के हिसाब से सरकारी अस्पताल नहीं है। इससे बड़ा उदाहरण दूसरा नहीं हो सकता कि शहर विधायक एवं योगी सरकार में स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग को कोरोना की पुष्टि होने के बाद शहर के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। इससे पहले जिले के पुलिस प्रशासन और जीडीए के कई सीनियर अधिकारी भी शहर के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती किए गए। जिले में स्वास्थ्य विभाग ने 70 लोगों के कोरोना से मरने की पुष्टि की है जबकि वास्तविक स्थिति इससे कहीं ज्यादा है। हर रोज सौ से ज्यादा मामले सामने आ रहे है। लोनी तहसील के अंतर्गत आने वाले फर्रूखनगर में कोरोना के 50 मामले सामने आए हैं। कोरोना की पुष्टि होने के बाद गांव को सील किया गया है। हिन्दुस्थान समाचार /फरमान अली-hindusthansamachar.in