गजब : एक साल तक संगीन अपराधों में वांछितों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने पर पूर्व थाना प्रभारी निलंबित
गजब : एक साल तक संगीन अपराधों में वांछितों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने पर पूर्व थाना प्रभारी निलंबित
उत्तर-प्रदेश

गजब : एक साल तक संगीन अपराधों में वांछितों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने पर पूर्व थाना प्रभारी निलंबित

news

गाजियाबाद, 10 सितम्बर (हि.स.)। संगीन अपराधों में वांछित अपराधियों के खिलाफ एक साल तक कार्रवाई नहीं करने पर साहिबाबाद के पूर्व थाना प्रभारी अनिल शाही को एसएसपी ने निलंबित कर दिया है । इसके साथ ही एसएसपी ने कई माह से निलंबित चल रहे नौ पुलिस कर्मियों को बहाल किया गया है। दो उपनिरीक्षक जफर अली व कमलजीत शामिल हैं । एसएसपी ने गुरुवार को बताया कि सहायक पुलिस अधीक्षक साहिबाबाद केशव कुमार द्वारा वर्ष 2020 की थाना साहिबाबाद में विवेचनाधीन गंभीर अपराधों की विवेचनात्मक प्रगति की समीक्षा में तीन अलग-अलग गैंगस्टर अधिनियम की विवेचनाओं के वांछितों पर वर्ष 2020 में कोई भी कार्रवाई ना करने एवं एक हत्या की विवेचना के अभियुक्त के विरुद्ध भी गत 6 माह से कोई भी कार्रवाई न करने के संबंध में लापरवाही बरतने की रिपोर्ट के आधार पर निरीक्षक अनिल शाही को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है तथा जांच एसपीआरए नीरज जादौन आईपीएस को सौंपी गई। उन्होंने बताया कि कई महीनों से विभिन्न आरोपों में निलंबित चल रहे मुख्य आरक्षी चालक सियाराम व छह आरक्षी सचिन शर्मा, सुधीर कुमार, धीरेंद्र सिंह, रोबिन, मोहम्मद आसिफ, अमित कुमार को बहाल कर दिया गया है । एसएसपी ने निलंबन से बहाल किए गए सभी पुलिसकर्मियों को जनहित में पारदर्शिता के साथ पूर्ण मनोयोग से अपनी ड्यूटी करने के निर्देश दिए है।इस प्रकार सभी निरीक्षकों को गंभीर अपराधों के मामले में अपराधियों के विरुद्ध कार्रवाई में शिथिलता ना बरतने के लिए भी सचेत किया है। हिन्दुस्थान समाचार /फरमान अली/ रामानुज ::::-hindusthansamachar.in