खुशहाल परिवार दिवस : आशाओं ने बनाई बास्केट ऑफ चॉइस
खुशहाल परिवार दिवस : आशाओं ने बनाई बास्केट ऑफ चॉइस
उत्तर-प्रदेश

खुशहाल परिवार दिवस : आशाओं ने बनाई बास्केट ऑफ चॉइस

news

- पीएमएसएमए की तर्ज पर मनाया गया खुशहाल परिवार दिवस,134 महिलाओं ने कराई नसबंदी झांसी, 21 दिसम्बर(हिं.स.)। जिस तरह प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस प्रत्येक माह की 9 तारीख को गर्भवतियों की सम्पूर्ण जांच के लिए जाना जाता है। इसी तर्ज पर सोमवार को खुशहाल परिवार दिवस परिवार पर नियोजन के सभी साधनों को दिये जाने दिवस के रूप में मनाया गया। इस दिवस विशेष पर लाभार्थियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। यह जानकारी मुख्य चिकित्साधिकारी डा. जी के निगम ने दी। राजघाट शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर खुशहाल परिवार दिवस का उद्घाटन करते हुये सीएमओ ने कहा कि खुशहाल परिवार दिवस का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए। जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोग केन्द्रों पर आकर परिवार नियोजन विधियों का लाभ ले सकें। सीएमओ ने सीपरी बाजार शहरी प्राथमिक केंद्र का भी भ्रमण किया। खुशहाल परिवार दिवस के अवसर पर आशाओं ने बास्केट ऑफ चॉइस बनाकर लाभार्थी को परिवार नियोजन के सभी साधनों के बारें में विस्तृत जानकारी दी। जिससे कि वह पसंद का साधन चुन सके। राजघाट यूपीएचसी की आशा उमा और मिथलेश ने बताया कि बास्केट ऑफ चॉइस दिखाकर लाभार्थी को संबन्धित विधि के बारें में बताना आसान रहा, और लाभार्थियों ने भी इसे रुचि से सुना। पहली बार अंतरा इंजेक्शन लगवाने आई वैशाली को एक साल का एक बच्चा है, अभी दूसरा बच्चा न चाहने के लिए उन्होने अंतरा इंजेक्शन लगवाया। नोडल अधिकारी डा. एनके जैन ने बताया कि खुशहाल परिवार दिवस का अयोजन जिला अस्पताल, सभी सीएचसी, पीएचसी, यूपीएचसी और हैल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर किया गया। आयोजन में अंतरा, छाया, कंडोम, आईयूसीडी, पीपीआईयूसीडी, गर्भ निरोधक गोलियो की जानकारी दी गई। जिन्होने इन सेवाओ को लेने की इच्छा जताई, उन्हे यह सेवाएं उपलब्ध कराई गई। बताया कि अब हर माह की 21 तारीख को खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन किया जाएगा। 21 तारीख को यदि राजकीय अवकाश रहा तो अगले दिन पर यह कार्यक्रम होंगें। इसके तहत लक्षित समूह को परिवार नियोजन के साधन अपनाने पर खास ध्यान दिया जा रहा है। खुशहाल परिवार दिवस का आंकड़ा खुशहाल परिवार दिवस पर 134 महिलाओं ने नसबंदी, 9 पीपीआईयूसीडी, 20 आईयूसीडी, 24 अंतरा इंजेक्शन, 74 छाया, 104 माला एन के तौर पर परिवार नियोजन के तरीके अपनाएं। हिन्दुस्थान समाचार/महेश-hindusthansamachar.in