कोरोना से मुक्ति दिलाने के लिए शिवभक्त काशी से अयोध्या तक करेंगे पदयात्रा
कोरोना से मुक्ति दिलाने के लिए शिवभक्त काशी से अयोध्या तक करेंगे पदयात्रा
उत्तर-प्रदेश

कोरोना से मुक्ति दिलाने के लिए शिवभक्त काशी से अयोध्या तक करेंगे पदयात्रा

news

पांच पड़ावों पर ठहराव, करेंगे रूद्राभिषेक, धार्मिक यात्रा का बतायेंगे महत्व वाराणसी, 15 अक्टूबर (हि.स.)। कोरोना संकट का दौर लम्बा खिंचता देख धार्मिक संगठन इससे देश को निजात दिलाने के लिए भगवान के शरण में पहुंच रहे है। शिवाराधना समिति काशी भी 18 अक्टूबर से बाबा विश्वनाथ की नगरी से रामनगरी अयोध्या तक पदयात्रा निकालेगी। सात दिवसीय पदयात्रा की शुरूआत जगतगंज धूपचंडी चौराहे से होगी। पदयात्रा के अगुवा और समिति के संस्थापक डा.मृदुल मिश्र ने गुरूवार को बताया कि सात दिवसीय यात्रा में 06 जगह पड़ाव (ठहराव) भी होगा। पहला पड़ाव पिंडरा वाराणसी,दूसरा जौनपुर,तीसरा,बदलापुर,चौथा चांदा बाजार,पांचवा सुल्तानपुर,छठा त्यागीपुर में होगा। डा.मिश्र ने बताया कि ठहराव के दौरान हर पड़ाव पर रूद्राभिषेक के बाद धार्मिक जागरण भी होगा। यात्रा में शामिल शिवभक्त सत्यशील चतुर्वेदी,अनिल चौरसिया,अशोक मिश्रा,शारदा विश्वकर्मा,लाल बहादुर तिवारी,संतोष चौरसिया,राजेन्द्र सिंह आदि पूरे राह शिव पंचाक्षर मंत्र का जाप करते चलेंगे। यात्रा का प्रभारी मनोज को बनाया गया है। उन्होंने बताया कि शिवाराधना समिति काशी में वर्षो से भोर में ओम नम: शिवाय प्रभातफेरी निकालती चली आ रही हैं। भोर में समिति के प्रभातभेरी में काशी आने वाले श्रद्धालु भी शिरकत करते हैं। इसमें भजन मंडली ढोल-मजीरा के साथ कीर्तन व पंचाक्षर मंत्र का जप करते हुए चलते रहते है। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/राजेश-hindusthansamachar.in