कैबिनेट मंत्री सतीश महाना की बीमार बहू का निधन, अस्पताल में भर्ती हुए मंत्री
कैबिनेट मंत्री सतीश महाना की बीमार बहू का निधन, अस्पताल में भर्ती हुए मंत्री
उत्तर-प्रदेश

कैबिनेट मंत्री सतीश महाना की बीमार बहू का निधन, अस्पताल में भर्ती हुए मंत्री

news

- कैंसर से पीड़ित चल रही थी बहू, परिवार और समर्थकों में शोक की लहर - कोरोना की चपेट में चल रहे हैं मंत्री, बहू की मौत पर खराब हुई तबीयत कानपुर, 07 सितम्बर (हि.स.)। कोरोना की चपेट में आये यूपी के कैबिनेट मंत्री सतीश महाना के परिवार में देर रात उस समय दुखों का पहाड़ टूट पड़ा, जब उनकी 35 वर्षीय बहू राधिका की मौत इलाज के दौरान हो गयी। बहू की मौत की खबर सुन होम आइसोलेशन में चल रहे मंत्री की तबियत खराब हो गयी और उन्हे पीजीआई में भर्ती कराया गया है। इधर महाना परिवार और उनके समर्थकों में शोक की लहर दौड़ पड़ी और सोमवार को सिद्धनाथ घाट में अंतिम संस्कार कराया गया। उत्तर प्रदेश के दिग्गज भाजपा नेता व योगी सरकार में औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना बीते दिनों कोरोना की चपेट में आ गये थे। मेदांता अस्पताल में इलाज के बाद वह इन दिनों लखनऊ स्थित होम आइसोलेशन में चल रहे थे। इधर कानपुर में देर रात बेटे करन महाना की 35 वर्षीय पत्नी राधिका की इलाज के दौरान मौत हो गयी। बहू की मौत की खबर पाकर मंत्री की तबीयत खराब हो गयी और उन्हे पीजीआई में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि बीते करीब दो वर्षों से मंत्री की बहू गले में कैंसर से पीड़ित थी और उनका इलाज चल रहा था। पिछले दिनों औद्योगिक विकास मंत्री के परिवार में कई लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने के वजह से स्वास्थ्य को देखते हुए वह अपने मायके सर्वोदय नगर में रह रही थीं। पिछले दिनों औद्योगिक विकास मंत्री और उनकी पत्नी कोरोना संक्रमित हो गए थे। इस पर वह लखनऊ जाकर आवास में असाइसोलेट हो गए थे। इधर परिवार के अन्य लोगों को कोरोना संक्रमण से मुक्त हुए तो बहू राधिका ने ससुराल आने की इच्छा जताई थी। इस पर वह मायके से वापस लालबंगला स्थित ससुराल आ गई थीं। रविवार रात अचानक उनकी हालत बिगड़ गई, जिस पर उन्हें नर्सिंग होम ले जाया गया। उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया, डॉक्टरों ने परीक्षण के बाद मृत घोषित कर दिया। राधिका की मौत पर महाना परिवार और समर्थकों में शोक की लहर दौड़ गई। मां की मौत की जानकारी पर आठ वर्षीय बेटा और 12 वर्षीय बेटी गुमशुम हो गए। सोमवार की सुबह सिद्धनाथ घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया। यहां पर महापौर प्रमिला पांडेय, सांसद देवेंद्र सिंह भोले, विधायक रघुनंदन सिंह भदौरिया समेत पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहें। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित-hindusthansamachar.in