केन्द्र सरकार अभी और कितने अन्नदाताओं की बलि लेगी - अरविंद वशिष्ठ
केन्द्र सरकार अभी और कितने अन्नदाताओं की बलि लेगी - अरविंद वशिष्ठ
उत्तर-प्रदेश

केन्द्र सरकार अभी और कितने अन्नदाताओं की बलि लेगी - अरविंद वशिष्ठ

news

- ताली व थाली बजाकर भाजपा जनप्रतिनिधियों को जगाया झांसी, 23 दिसम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अरविंद वशिष्ठ के नेतृत्व में किसान नेता पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह के जन्म दिवस के अवसर पर किसान संगठनों के समर्थन में जीवनशाह चौराहे पर सभा की गई। इस दौरान कांग्रेसियों ने ताली व थाली बजाकर सांसद व विधायकों को नींद से जगाने का भी कार्य किया, हालांकि उन्हें सांसद के आवास तक पहुंचने से पहले ही हिरासत में ले लिया गया। इससे पूर्व सभा को संबोधित करते हुए अरविंद वशिष्ठ ने कहा कि मालूम नहीं केंद्र सरकार अभी कितने अन्नदाताओं की और बलि लेगी क्योंकि अब तो किसानों के साथ पंजाब के आढ़तियों पर भी जुल्म ढाना शुरू हो गया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानून के विरोध में किसानों का आंदोलन लगातार चल रहा है। अब तक इस आंदोलन में कई किसानों की मौत भी हो चुकी है। किसानों के आंदोलन स्थल पर संत बाबा राम सिंह ने अचानक खुद को गोली मार ली। अपने सुसाइड नोट में किसानों के दुख का उल्लेख किया और कहा सरकार इन्हें न्याय नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि लगातार जुल्म कर रही है जो जुल्म करता है वह पापी है। इसके बावजूद भी सरकार पर कोई असर नहीं है। इसका कारण है कि वह किसानों के समर्थन में थे। सरकार किसानों की तरफ से बेपरवाह है। आज हम सभी भारतीय जनता पार्टी के जनप्रतिनिधि सांसद व विधायकों के आवास पर चलकर थाली-ताली बजाकर प्रदर्शन करेंगे, जिससे केंद्र सरकार की कुंभकर्णी की नींद खुल सके। जैसे ही कांग्रेसी प्रदर्शन हेतु सांसद निवास की ओर आगे बढ़े, उन्हें पुलिस ने आगे जाने से रोका और तीखी नोकझोंक के बाद भी जब कांग्रेसी नहीं माने तो उन्हें शहर अध्यक्ष अरविंद वशिष्ठ समेत राजेंद्र रेजा, जितेन्द्र भदौरिया, मुहम्मद महमूद मंसूरी, मुहम्मद फारुख, हैदर अली, सचिन श्रीवास, प्रकाश परिहार, दुलीचंद कुशवाहा, कुंअर छोटे राजा, फैज़ल हाशमी, पवन शाक्या, पवन तिवारी, धीरज गौतम आदि को पुलिस हिरासत में ले लिया गया। हिन्दुस्थान समाचार/महेश-hindusthansamachar.in