कुशीनगर में मुसहर पिता-पुत्र की मौत से हड़कम्प
कुशीनगर में मुसहर पिता-पुत्र की मौत से हड़कम्प
उत्तर-प्रदेश

कुशीनगर में मुसहर पिता-पुत्र की मौत से हड़कम्प

news

-मुख्यमंत्री की प्राथमिकता में होने के बावजूद बेहाल हैं मुसहर कुशीनगर, 24 जुलाई (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्राथमिकता वाले कुशीनगर के मुसहर जाति के लोगों का अभाव व बीमारियों से मरने का सिलसिला थम नहीं रहा। शुक्रवार भोर में जिले के हनुमानगंज थाना क्षेत्र के ग्राम सभा बोधीछपरा में मुसहर पिता-पुत्र की मौत हो गई। फूड प्वायजनिंग से मौत बताई जा रही है। मुसहर जाति के दो लोगों की मौत एक साथ होने से प्रशासन में हड़कम्प मच गया। मृतक बलराम (15) व जगदीश (45) के घर सुबह रोना पीटना शुरू हुआ तो लोगों को घटना की जानकारी हुई। पत्नी राबड़ी देवी के घर के सभी लोग रात में रोटी मछली खाने के बाद साथ ही सोए थे। आधी रात को अचानक गला चोक व पेट में दर्द होने की बात कहकर दोनों लोग चिल्लाने लगे। पत्नी ने पानी गर्म कर गलाला कराया। आराम न मिलने पर उन्हें भोर में पीएचसी खड्डा ले जाया गया। जहां गेट पर ही पुत्र की मौत हो गई। इसके बाद पुत्र के शव और गंभीर हालत में पिता को लेकर लोग घर आ गए। वहां टेंपो से उतारते ही पिता ने भी दम तोड़ दिया। पिता-पुत्र की मौत की खबर पर उसके दरवाजे पर लोगों का आना-जाना शुरू हो गया। थोड़ी ही देर में ग्रामीणों की भीड़ लग गई। इस गांव में चार दर्जन से अधिक मुसहरों का परिवार है। इनका घर बाढ़ के पानी में डूबा हुआ है। सूचना पर गांव में पहुंचे नायब तहसीलदार खड्डा रवि यादव ने घटना की जानकारी ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। एसओ हनुमानगंज धर्मेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा। हिन्दुस्थान समाचार/गोपाल/राजेश-hindusthansamachar.in