किसान दिवस पर सम्मान समारोह में 34 कृषक हुए सम्मानित
किसान दिवस पर सम्मान समारोह में 34 कृषक हुए सम्मानित
उत्तर-प्रदेश

किसान दिवस पर सम्मान समारोह में 34 कृषक हुए सम्मानित

news

प्रयागराज, 23 दिसम्बर (हि.स.)। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरण सिंह के जन्म दिवस पर बुधवार को मुख्य विकास अधिकारी आशीष कुमार ने संगम सभागार में आयोजित किसान सम्मान दिवस में कुल 34 कृषकों को सम्मानित करते हुए उनका उत्साहवर्धन किया। मुख्य विकास अधिकारी ने कृषकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस तरह के कार्यक्रम से कृषकों में उत्पादन बढ़ाने की स्वस्थ प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी तथा जनपद में लक्ष्य से भी अधिक खाद्यान्न, सब्जियॉ, फल-फूल तथा डेयरी उत्पादन प्राप्त होगा। उन्होंने कृषकों को अधिक उत्पादन के साथ-साथ गुणवत्तापूर्ण उत्पादन प्राप्त करने हेतु सुझाव दिया। कृषकों को अपने उत्पादन का अधिक लाभ प्राप्त करने हेतु कृषक उत्पादन संगठन (एफपीओ) गठित करने एवं अधिक से अधिक किसानों को उससे जोड़ने का आह्वान किया। जिससे उनके उत्पादों की ग्रेडिंग एवं विपणन हेतु उचित एवं सुगम प्लेटफार्म उपलब्ध कराते हुए उचित मूल्य प्राप्त हो सके। सैम हिग्गिनबाटम कृषि प्रौद्योगिकी एवं विज्ञान विश्वविद्यालय नैनी प्रयाग के वैज्ञानिक डॉ.मुकेश कुमार ने रबी में तिलहन एवं दलहन खेती के बारे में बताया। कहा कृषकों द्वारा छिटकवा विधि से बुवाई करने से लागत ज्यादा लगती है और उत्पादन कम होता है। इससे उपज पर्याप्त मात्रा में नहीं मिलती है। फसलों की लाइन विधि से बुवाई करने से बीज कम लगता है और दोगुना उत्पादन भी बढ़ता है तथा सूर्य की रोशनी हर पौधे को बराबर मिलती है। उत्पादन बढ़ने से आय बढ़ जाती है। इस अवसर पर जनपद के अधिकतम उत्पादन प्राप्त करने वाले कृषि, पशुपालन, मत्स्य एवं उद्यान विभाग के 8-8 कृषकों को कुल 32 तथा कृषि विविधीकरण अपनाने वाली दो महिला कृषकों को विशिष्ट पुरस्कार से मुख्य विकास अधिकारी ने सम्मानित किया। प्रथम पुरस्कार पाने वाले 17 कृषकों को 7000 रूपया, अंगवस्त्रम एवं प्रशस्ति पत्र तथा द्वितीय पुरस्कार प्राप्त करने वाले कृषकों को 5000 रूपया, अंगवस्त्रम एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त/संजय-hindusthansamachar.in