किशोरियों की शिक्षा एवं विकास के लिए मिलान ने बेहतर नेटवर्क कार्ययोजना बनाई, 40 जिलों में विस्तार पर जोर
किशोरियों की शिक्षा एवं विकास के लिए मिलान ने बेहतर नेटवर्क कार्ययोजना बनाई, 40 जिलों में विस्तार पर जोर
उत्तर-प्रदेश

किशोरियों की शिक्षा एवं विकास के लिए मिलान ने बेहतर नेटवर्क कार्ययोजना बनाई, 40 जिलों में विस्तार पर जोर

news

वाराणसी, 22 सितम्बर (हि.स.)। किशोरियों की शिक्षा एवं विकास के लिए मिलान फाउंउेशन ने प्रदेश के 60 जिलों में सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर बेहतर नेटवर्क के लिए कार्य योजना बनाई है। संस्था के सीइओ धीरेन्द्र प्रताप सिंह ने नेटवर्क के अगले चरण तक ले जाने के लिए आगामी तीन वर्षो में कार्य को 40 जिलों में विस्तार करने पर खासा जोर दिया है। सीइओ धीरेन्द्र प्रताप ने मंगलवार को वर्चुअल राज्य स्तरीय बैठक में पदाधिकारियों से राज्य स्तरीय गर्ल आइकॉन कम्युनिटी नेटवर्क के गठन पर खासा जोर दिया। बैठक में यूपी के स्टेट मैनेजर जावेद अब्बास ने दो साल के कार्यो का ब्यौरा दिया। गल्र्स नॉट ब्राइड्स की सुश्री दिव्या मुकुन्द, यूनिसेफ, ब्रेक थ्रू,ममता, पिरामल फाउंडेशन, वल्र्ड विजन, एक्शन एड,और पानी आदि के राज्य प्रतिनिधियों ने भी अपने अनुभव को साझा किया। इन संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने किशोरियों की शिक्षा के लिए मिलजुल कर कार्य करने की प्रतिबद्धता जताई। स्टेट हेड जावेद अब्बास ने बताया कि 100 से अधिक देशोें में बाल विवाह को रोकने और किशोरियों के विकास के लिए कार्य चल रहा है। 13 जिलों की 15 संस्थाएं राज्य स्तरीय नेटवर्क से भारत में कार्य कर रही है। बैठक में आजमगढ़, बाराबंकी, चंदौली, गाजीपुर, हरदोई, जौनपुर, लखीमपुर खीरी, लखनऊ, मउ, रायबरेली, सीतापुर, उन्नाव, वाराणसी के वर्तमान जीआईसीएन सदस्य मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/दीपक-hindusthansamachar.in