औरैया : विद्यालय में नामांकन पत्र के नाम पर कर रहे धन उगाही
औरैया : विद्यालय में नामांकन पत्र के नाम पर कर रहे धन उगाही
उत्तर-प्रदेश

औरैया : विद्यालय में नामांकन पत्र के नाम पर कर रहे धन उगाही

news

- विद्यालय में खर्च चलाने के लिए कोई फंड नहीं, दस रुपये का रजिस्ट्रेशन फार्म दो सौ में लेना जरूरी औरैया, 31 (हि. स.)। विद्यालय में शिक्षा के नाम पर भले ही आनलाइन व्यवस्था शासन द्वारा की गई हो लेकिन नाम लिखाने के लिए छात्र-छात्राओं को संस्था मे आना आवश्यक हो गया है। पिछले चार महीने कोरोना महामारी के कारण बंद जिले के कंचौसी नगर का मानस इन्टर कालेज चालू माह के मध्य से खुल गया है। जहां छात्रों की संख्या मामूली है, लेकिन शिक्षक प्रधानाचार्य व अन्य स्टाफ नियमित आ रहे हैं। इस समय क्लास छह से बारह तक नामांकन हो रहे है। वही, दूसरी ओर वह छात्र व अभिभावक कालेज में दिखाई दे रहे हैं। जिनका नाम लिखना है जिनसे कहा गया है कि नाम लिखाने के समय पूरी फीस जमा करना आवश्यक है। लेकिन सबसे अधिक अभिभावक व छात्र इस बात से परेशान दिखाई दे रहे है कि नाम लिखाने के समय नामांकन फार्म दस रुपये की जगह दो सौ रुपये में बेचा जा रहा है वह भी उसकी कोई रसीद नही दी जा रही है। कुछ बच्चो के संरक्षको ने बताया कि जब उन्होंने इसका विरोध किया और रसीद मागी तो उनसे कही दूसरे कालेज मे जा कर पड़ने के लिए कहा जा रहा है इस मारा-मारी मे बहुत से छात्र अपनी बात भी नही कह पा रहे है। अब तक दो सौ के लगभग नये नामांकन हुए है लेकिन किसी को कोई रसीद नही मिली है। प्रधानाचार्य डॉ अनुरूध प्रताप सिंह दो सौ रुपये फार्म बिक्री को जायज बताते हुए कालेज में खर्च का कोई अतिरिक्त साधन न होने का उपाय बता रहे है। जिसके लिये अधिकारियो से अनुमति ली गई है जबकि इस सम्बंध में जिला विद्यालय निरीक्षक हृदय नारायन तिवारी गलत बता रहे है जिसकी वह शीघ्र जाच कराने को कह रहे है। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील/मोहित-hindusthansamachar.in