औरैया : गोपाष्टमी पर हुआ गौमाता का पूजन
औरैया : गोपाष्टमी पर हुआ गौमाता का पूजन
उत्तर-प्रदेश

औरैया : गोपाष्टमी पर हुआ गौमाता का पूजन

news

औरैया, 22 नवंबर (हि.स.)। शहर के श्री पोरवाल धर्मशाला, औरैया में गोपाष्टमी के पावन अवसर पर गौ माता पर गंगाजल छिड़ककर अंग वस्त्रों के साथ गुड़, फल, मिष्ठान व चने की दाल खिलाकर विधि विधान से पूजा-अर्चना की गई। ऐसी मान्यता है कि गोपाष्टमी के दिन जो व्यक्ति गाय के नीचे से निकलता है उसे मनचाहे पुण्य फल की प्राप्ति होती है। महिला शाखा तुलसी की अध्यक्ष बबिता ने बताया कि कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष अष्टमी को गोपाष्टमी पर्व धूमधाम से मनाया जाता है। प्राचीन मान्यता है कि आज के दिन माता यशोदा ने भगवान श्री कृष्ण को पहली बार गायों को चराने के लिए जंगल में भेजा था तथा भगवान श्री कृष्ण ने आज से ही गौचरण लीला प्रारंभ की थी, तभी से कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष अष्टमी को गोपाष्टमी धूमधाम से मनाई जाने लगी। गौ माता में तैंतीस करोड़ देवी देवताओं का वास होता है। गौ सेवा व पूजन से सभी देवी देवता प्रसन्न होते हैं तथा गौ पूजन करने वाले की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। तुलसी शाखा की प्रभारी मीरा गुप्ता व संरक्षक लक्ष्मी बिश्नोई ने बताया कि 29 नवंबर रविवार प्रातः11 बजे से कार्तिक मास की वैकुंठ चौदस को श्री पोरवाल धर्मशाला, औरैया में धार्मिक आयोजन तुलसी विवाह के साथ एक विधवा विवाह भी हर्षोल्लास के साथ संपन्न कराया जाएगा, उन्होंने माताओं बहनों से तुलसी विवाह के धार्मिक आयोजन में पधारने की अपील की है। गोपाष्टमी कार्यक्रम में प्रमुख रूप से महिला शाखा की कोषाध्यक्ष क्षमा सोनी, ममता गुप्ता, लक्ष्मी वर्मा, ममता विश्नोई, मधु शर्मा, सुनीता चौबे, रिंकी शुक्ला, उमा गहोई, यूविका पोरवाल आदि महिला सदस्य मौजूद रहीं। हिन्दुस्थान समाचार / सुनील-hindusthansamachar.in