एक सप्ताह से लगातार घट रहा है गंगा के जल का दबाव
एक सप्ताह से लगातार घट रहा है गंगा के जल का दबाव
उत्तर-प्रदेश

एक सप्ताह से लगातार घट रहा है गंगा के जल का दबाव

news

तटवर्ती बाशिंदों के अतिरिक्त प्रशासन ने ली राहत की सांस कासगंज 7 सितंबर (हि.स.)। गंगा का रौद्र रूप धीरे धीरे प्रतिदिन घटता चला जा रहा है। पिछले 1 सप्ताह में गंगा के पानी का दबाव लगातार कम हुआ है। गंगा के हालात सामान्य होते देखे जा रहे हैं। फलस्वरुप तटवर्ती बाशिंदों एवं जिला प्रशासन ने राहत की सांस लेना प्रारंभ कर दिया है। पहाड़ों पर जैसे-जैसे बारिश कम हो रही है। वैसे-वैसे गंगा में पानी का दबाव भी कम होता चला जा रहा है। पिछले एक सप्ताह के आंकड़ों के मुताबिक 1 सितंबर को गंगा में पानी का दबाव 163.3 मीटर, 2 सितंबर को 163.10 मीटर, 3 सितंबर को 162.90 मीटर, 4 सितंबर को 162.70 मीटर, 5 सितंबर को 162.50 मीटर, 6 सितंबर को 162.45 मीटर नापा गया है। यह आंकड़े सिंचाई विभाग ने कछला गंगा घाट से पर स्थापित गेज से नाप कर संकलित किए हैं। सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता अरुण कुमार के मुताबिक बीते दो दिनों में रविवार को हरिद्वार से गंगा में 68480 क्यूसेक, बिजनौर से 14662 क्यूसेक, नरोरा से 26995 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। जबकि सोमवार को ताजा स्थिति के मुताबिक हरिद्वार से 62861 क्यूसेक, बिजनौर से 34662 क्यूसेक, नरोरा से 26995 क्यूसेक पानी गंगा में छोड़ा गया है। फलस्वरूप सोमवार को पॉइंट 5 पर्सेंट पानी का दबाव बढ़ा है। कछला पर गेज में 162.50 मीटर पानी नापा गया है। उनका कहना है कि फिलहाल गंगा के हालात दिन पर दिन सामान्य होते चले जा रहे हैं। क्षेत्रीय बाशिंदों के मुताबिक सोरों क्षेत्र के ग्राम लहरा, कादर बाड़ी, डिग्लिश नगर, सहित पटियाली क्षेत्र के सिकंदरपुर वैश्य, इस्लामनगर, उलाई खेड़ा, बमनपुरा, वस्तोई, नगला तिलक, सुन्न्गडी, हिम्मतनगर, बझेड़ा, कादरगंज खाम के बाशिंदे राहत की सांस महसूस कर रहे हैं। इसी तरह बाढ़ के हालातों को लेकर चौकसी बनाए रखने वाले विभिन्न विभागों के कर्मचारी एवं जिला प्रशासन ने भी गंगा के पानी के दबाव का सामान्य हालात होते देख राहत की सांस ली है। हिन्दुस्थान समाचार/ पुष्पेंद्र/मोहित-hindusthansamachar.in