एक लाख 24 हजार किसानों को 626 करोड़ भुगतान का इंतजार
एक लाख 24 हजार किसानों को 626 करोड़ भुगतान का इंतजार
उत्तर-प्रदेश

एक लाख 24 हजार किसानों को 626 करोड़ भुगतान का इंतजार

news

बागपत, 17 सितम्बर(हि.स.)। बागपत जनपद के एक लाख 24 हजार किसानों का गन्ना 12 चीनी मिलों को जाता है। नया सत्र शुरू होने वाला है। लेकिन 12 चीनी मिलों पर किसानों का 626 करोड़ का बकाया है। भुगतान की मांग के बाद भी किसानों को उनकी फसल का दाम नहीं मिल पा रहा है। 14 दिन में गन्ना भुगतान का दावा भी भाजपा सरकार में विफल हो चुका है। किसानों ने मांग की है कि जल्द से जल्द उनको गन्ने का भुगतान मिले। अकेले मलकरपुर चीनी मिल किसानों का 300 करोड़ का भुगतान दबाकर बैठी है। जबकि मोदनगर चीनी मिल भी 26 करोड़, बागपत 29, रमाला 78, भैसाना पर 45 करोड़ गन्ना भुगतान बताया है जबकि अन्य चीनी मिलों पर किसानों का करोड़ो बकाया चल रहा है। नया पैराई सत्र शुरू होने से पहले हर साल किसानों को पिछले गन्ना भुगतान की लड़ाई लड़नी पड़ती है किसानों को भरोसा था कि यूपी में योगी सरकार उनको समय से गन्ना भुगतान दिलाएगी। लेकिन भुगतान न मिलने के कारण किसान मायूस है। भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष प्रताप सिंह गुर्जर का कहना है कि कई बार किसान गन्ना भुगतान की मांग कर चुके है लेकिन सरकार सुनने को तैयार नहीं है। बिजली बिलों को लेकर तो किसानों पर मुकदमें दर्ज किये जा रहे है, लेकिन चीनी मिलों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। कहा कि मुख्यमंत्री 14 दिन में गन्ना किसानों को भुगतान करने का अपना वादा पूरा करें। जिलाधिकारी शकुंतला गौतम का कहना है कि गन्ना भुगतान को लेकर सभी चीनी मिलों को नोटिस दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/सचिन त्यागी/राजेश-hindusthansamachar.in