एक अक्टूबर से शुरु होंगी खेल गतिविधियां, खिलाड़ियों में हर्ष का माहौल
एक अक्टूबर से शुरु होंगी खेल गतिविधियां, खिलाड़ियों में हर्ष का माहौल
उत्तर-प्रदेश

एक अक्टूबर से शुरु होंगी खेल गतिविधियां, खिलाड़ियों में हर्ष का माहौल

news

एक अक्टूबर से शुरु होंगी खेल गतिविधियां, खिलाड़ियों में हर्ष का माहौल कानपुर, 10 सितम्बर (हि. स.)। बीती 12 मार्च से सूबे के अनेक जिलों में लॉकडाउन हुए खेलों को अब प्रदेश व केन्द्र सरकार ने अनलॉक कर दिया है। अगले महीने की एक तारीख से खेलों की गतिविधियों को पुनः प्रारम्भ करने के लिए सरकार की निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं। खेलों के प्रति सरकार के निर्देश जारी किए जाने के बाद से खेल गतिविधियों को संचालित करने वालों और खिलाडियों में हर्ष का माहौल है। हालांकि खिलाडियों व प्रशिक्षकों को कोविड प्राटोकॉल के नियमों का पालन भी अनिवार्य करना होगा। बीते कई महीनों से अभ्यास ने कर पाने से वंचित खिलाडियों को अब अभ्या्स तो करने का मौका मिलेगा ही साथ ही अपनी प्रतिभा को निखारने के लिए भी समय मिल सकेगा। नगर में क्रिकेट, हॉकी, फुटबाल, बैडमिन्टन, टेबिल टेनिस, जूडो, ताइक्वान्डो कबड्डी आदि खेलों में खिलाडियों की संख्या अनगिनत है, जबकि राष्ट्रीय व अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर खेल में परचम लहरा चुके प्रशिक्षक भी खिलाडियों को ट्रेनिंग देने के लिए आतुर है, क्योंकि अभ्यास न कर पाने से उनकी प्रतिभा में भी जंग लगने जैसे आसार पैदा हो गए हैं। शहर के ग्रीनपार्क, पालिका स्टेडियम, रतनलाल शर्मा स्टेडियम में तो इन्डोर के साथ ही आउटडोर खेलों में अभ्यास करने के लिए खिलाडियों की प्राथमिकता पहले ही रहती है। अब खेलों की गतिविधियां शुरू होने से खिलाडियों को अपनी प्रतिभा निखारने में मदद मिलेगी। वहीं प्रशिक्षकों को सरकारी निर्देशों के अनुसार ही अभ्यास कराने के लिए खिलाडियों को बुलाना होगा। अब देखना यह है कि कितनी संख्या तक खिलाडी स्टेडियम में कितने समय तक और कोविड नियमों का पालन करते हुए अभ्यास करेंगे। ग्रीनपार्क में लगभग 2700 के आसपास खिलाडियों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है तो पालिका में सबसे अधिक क्रिकेटर ही लगभग 700 के आसपास खिलाडी अभ्यास करतें हैं। खेलों की गतिविधियां शुरू होने के बाद कितने खिलाडियों को एक साथ प्रशिक्षण देने के लिए अनुमित मिलेगी और कितने चरणों में यह शासन के निर्देशानुसार क्रीडा प्रभारी तय करेंगे। पालिका स्टेडियम के क्रीडा प्रभारी जफर आलम ने कहा कि ये बडे ही हर्ष का विषय है कि सरकार ने खेल की गतिविधियों के शुरू करने के निर्देश जारी कर दिए है, लेकिन मानकों की सूची अभी सब के पास नहीं आयी है। खिलाडियों की सुरक्षा भी सर्वोपरि है कोविड प्रोटोकाल के नियमों का पालन कर खिलाडियों को स्टे्डियम में प्रवेश की अनुमति प्रदान की जाएगी। ग्रीनपार्क छात्रावास के क्रिकेट प्रशिक्षक अमित पाल ने कहा कि ग्रीनपार्क क्रिकेट छात्रावास खुलने से भी अब खिलाडियों का मनोबल बढे़गा। बीते कई महीनों से क्रिकेटर अभ्यास से वंचित हैं। अभ्यास न कर पाने के कारण शरीर शिथिल सा हो गया था अब अभ्यास करने से सेहत और संतुलित हो जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/अजय / मोहित-hindusthansamachar.in