उप्र: स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स जल्द लेगी मूर्त रूप, 26 जनवरी की परेड में शामिल होने का लक्ष्य
उप्र: स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स जल्द लेगी मूर्त रूप, 26 जनवरी की परेड में शामिल होने का लक्ष्य
उत्तर-प्रदेश

उप्र: स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स जल्द लेगी मूर्त रूप, 26 जनवरी की परेड में शामिल होने का लक्ष्य

news

-बल के लिए आवश्यक वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की तैनाती के निर्देश -विशेष बल के संचालन के लिए नियमावली एक सप्ताह में की जाएगी प्रस्तुत लखनऊ, 05 नवम्बर (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स के गठन के लिए की जाने वाली सभी औपचारिकताओं को जल्द से जल्द पूर्ण कर इसको मूर्तरूप दिये जाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में शासन स्तर पर प्रयास किया जा रहा है कि आगामी 26 जनवरी 2021 की परेड में इस नये बल की टुकड़ी भी भाग ले सके। अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने इस सम्बन्ध में गुरुवार एक उच्च स्तरीय बैठक की। इस दौरान इस दिशा में अब तक हुई कार्यवाही की प्रगति की समीक्षा भी की गयी। राज्य के महत्वपूर्ण स्थानों आदि की सुरक्षा व्यवस्था प्रोफेशनल तरीके से सुनिश्चित किये जाने के लिए पृथक से इस सुरक्षा बल के गठन का निर्णय लिया गया था। प्रथम चरण में इस विशेष सुरक्षा बल की 5 वाहनियां गठित की जानी है। बैठक में निर्णय किया गया कि इस नये बल के लिये एक अपर पुलिस महानिदेशक, एक पुलिस महानिरीक्षक-पुलिस उप महानिरीक्षक, एक पुलिस अधीक्षक, 02 पुलिस उपाधीक्षक एवं निरीक्षक स्तर के अधिकारी की तत्काल तैनाती की जाए, जिनको स्थापना सम्बन्धी कार्याें का अनुभव हो। इस विशेष बल के संचालन के लिए तैयार की जा रही नियमावली को भी एक सप्ताह में शासन के समक्ष प्रस्तुत किये जाने के निर्देश दिये गये हैं। बैठक में यह भी निर्णय किया गया कि इस बल को जल्द क्रियाशील करने के लिए तात्कालिक रूप से 03 वर्ष के लिए प्रतिनियुक्त पर पुलिस कर्मियों की तैनाती कर ली जाए। उसके बाद चरणबद्ध रूप से नियमानुसार व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। अपर मुख्य सचिव, गृह ने इस बल के मुख्यालय आदि के गठन सम्बन्धी प्रस्ताव भी यथाशीघ्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। बैठक में जानकारी दी गयी कि प्रथम चरण में इस बल की तैनाती सभी जनपदीय न्यायालयों, उच्च न्यायालय, मेट्रो स्टेशनों पर की जायेगी। तदोपरान्त बल की उपलब्धता बढ़ते ही अन्य निर्धारित स्थानों पर की जा सकेगी। बैठक में सचिव, गृह भगवान स्वरूप, अपर पुलिस महानिदेशक, स्थापना, अपर पुलिस महानिदेशक, पीएचक्यू के अलावा अन्य वरिष्ठ पुलिस व गृह विभाग के अधिकारी उपस्थित रहें। हिन्दुस्थान समाचार/संजय-hindusthansamachar.in