उप्र: स्नातक और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र की 11 एमएलसी सीटों पर नामांकन शुरू
उप्र: स्नातक और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र की 11 एमएलसी सीटों पर नामांकन शुरू
उत्तर-प्रदेश

उप्र: स्नातक और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र की 11 एमएलसी सीटों पर नामांकन शुरू

news

-पहले दिन बरेली-मुरादाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से सपा उम्मीदवार ने परचा किया दाखिल लखनऊ, 05 नवम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश विधान परिषद के पांच खण्ड स्नातक और छह खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र की रिक्त सीटों के लिए गुरुवार से नामांकन शुरू हो गया। पहले दिन बरेली-मुरादाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के संजय कुमार मिश्र 'गुरु जी' ने नामांकन किया। मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि बताया कि आज निर्वाचन की अधिसूचना जारी होने के साथ ही जहां नामांकन शुरू हो गया है। वहीं नामांकन की अंतिम तारीख 12 नवम्बर है तथा 13 नवम्बर को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। नाम वापसी की अंतिम तारीख 17 नवम्बर है। वहीं 01 दिसम्बर को पूर्वाह्न 8:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक मतदान सम्पन्न कराया जाएगा। मतगणना 03 दिसम्बर को होगी तथा 07 दिसम्बर से पूर्व निर्वाचन सम्पन्न करा लिया जाएगा। प्रदेश में आगरा, मेरठ, लखनऊ, वाराणसी और इलाहाबाद-झांसी खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र और लखनऊ, वाराणसी, बरेली-मुरादाबाद, मेरठ, आगरा व गोरखपुर-फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव होने हैं। वहीं जिन सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, उनमें लखनऊ खण्ड स्नातक से कांति सिंह, वाराणसी खण्ड स्नातक से केदारनाथ सिंह, आगरा खण्ड स्नातक से डॉ. असीम यादव, मेरठ खण्ड स्नातक से शिक्षक नेता हेम सिंह पुंडीर, इलाहाबाद-झांसी खण्ड स्नातक से डॉ. यज्ञदत्त शर्मा, लखनऊ खण्ड स्नातक से उमेश द्विवेदी, वाराणसी खण्ड शिक्षक से चेत नारायण सिंह, आगरा खण्ड शिक्षक से जगवीर किशोर जैन, मेरठ खण्ड शिक्षक से नेता शिक्षक दल ओम प्रकाश शर्मा, बरेली-मुरादाबाद खण्ड शिक्षक से संजय कुमार मिश्र और गोरखपुर-फैजाबाद खण्ड शिक्षक से ध्रुव कुमार त्रिपाठी हैं। इन विधान परिषद द्विवार्षिक द्विवार्षिक निर्वाचन 2020 के संदर्भ में उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों (कानपुर नगर, कानपुर देहात, तथा उन्नाव को छोड़कर) में निर्वाचन होने हैं। आदर्श आचार संहिता उन निर्वाचन क्षेत्रों में, जहां विधान परिषद खण्ड स्नातक तथा खण्ड शिक्षक निर्वाचन होने हैं, भारत निर्वाचन आयोग के प्रावधानों के अनुसार लागू हो गई है। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/राजेश-hindusthansamachar.in