उप्र में आठ जिलाधिकारी समेत 15 आईएएस अधिकारियों के तबादले
उप्र में आठ जिलाधिकारी समेत 15 आईएएस अधिकारियों के तबादले
उत्तर-प्रदेश

उप्र में आठ जिलाधिकारी समेत 15 आईएएस अधिकारियों के तबादले

news

लखनऊ, 12 सितम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने आठ जिलाधिकारियों समेत 15 आईएएस अधिकारियों के तबादले कर दिए हैं। इनमें से सात जिलों के जिलाधिकारियों को हटाकर उन्हें प्रतीक्षा सूची में डाल दिया गया है। एक दिन पहले सरकार ने आठ जिलों के पुलिस कप्तान समेत 13 आईपीएस अधिकारियों का तबादला किया था। शासन द्वारा शुक्रवार देर रात जारी तबादला सूची के अनुसार मेरठ, इटावा, सीतापुर, ललितपुर, सुल्तानपुर, गाजीपुर, मऊ, संतकबीरनगर के जिलाधिकारियों को हटा दिया गया है। इनमें से केवल संतकबीर नगर के जिलाधिकारी रवीश गुप्ता को सुल्तानपुर का जिलाधिकारी बनाया गया है। बाकी सात जिलों के जिलाधिकारियों को प्रतीक्षारत कर दिया गया है। मेरठ के जिलाधिकारी अनिल ढींगरा, इटावा के जितेंद्र बहादुर सिंह, सीतापुर के जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी, ललितपुर के जिलाधिकारी योगेश कुमार शुक्ला, सुल्तानपुर की सी. इंदुमति, गाजीपुर के ओम प्रकाश आर्या और मऊ के जिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी को हटाकर प्रतीक्षा सूची में डाला गया है। स्रकार ने अब पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम वाराणसी के प्रबंध निदेशक के. बालाजी को मेरठ, यूपी मेडिकल सप्लाईज कारपोरेशन लखनऊ की प्रबंध निदेशक श्रुति सिंह को इटावा, मुख्य सचिव के स्टाफ अफसर विशाल भारद्वाज को सीतापुर, विशेष सचिव नमामि गंगे तथा ग्रामीण जलापूर्ति विभाग ए. दिनेश कुमार को ललितपुर, सचिव लखनऊ विकास प्राधिकरण मंगला प्रसाद सिंह को गाजीपुर, उपाध्यक्ष मेरठ विकास प्राधिकरण राजेश कुमार पांडेय को मऊ, उपाध्यक्ष बरेली विकास प्राधिकरण दिव्या मित्तल को संतकबीर नगर और संतकबीर नगर के जिलाधिकारी रवीश गुप्ता को सुल्तानपुर का नया जिलाधिकारी बनाया गया है। दरअसल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पिछले कई दिनों से प्रदेश के जिलों के विकास कार्यों और कानून व्यवस्था की मंडलवार समीक्षा कर रहे हैं। इस दौरान वह जनप्रतिनिधियों से भी वीडियोकांफ्रेंसिंग के जरिए जिलों का फीडबैक ले रहे हैं। शासन से जुड़े सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री अनियमितताओं और विकास के कार्यों में लापरवाही को लेकर जिलाधिकारियों को हटाकर प्रतिक्षा सूची में डाला है। कोरोना किट की खरीद में भ्रष्टाचार उजागर होने के बाद दो दिन पहले सुल्तानपुर व गाजीपुर के जिला पंचायत राज अधिकारियों को निलंबित किया गया था। अब इन दोनों जिलों के जिलाधिकारी भी हटा दिए गए हैं। एक दिन पहले शासन ने आठ जिलों हरदोई, कानपुर देहात, रायबरेली, हमीरपुर, उन्नाव, सिद्धार्थनगर, लखीमपुर खीरी और कुशीनगर के पुलिस कप्तान समेत 13 आईपीएस अधिकारियों का भी तबादला किया था। हिन्दुस्थान समाचार/ पीएन द्विवेदी-hindusthansamachar.in