उप्र: कोरोना के सक्रिय मामले घटकर हुए 36,295, रिकवरी दर लगभग 90.42 प्रतिशत
उप्र: कोरोना के सक्रिय मामले घटकर हुए 36,295, रिकवरी दर लगभग 90.42 प्रतिशत
उत्तर-प्रदेश

उप्र: कोरोना के सक्रिय मामले घटकर हुए 36,295, रिकवरी दर लगभग 90.42 प्रतिशत

news

बीते चौबीस घंटे में 2,728 नए मामले आए सामने, 3,239 मरीज हुए स्वस्थ लखनऊ, 15 अक्टूबर (हि.स.)। प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या अब घटकर 36,295 हो गई है। एक्टिव मामलों में पिछले चार सप्ताह में 47 प्रतिशत की कमी आयी है। अब तक 4.04 लाख मरीज इलाज के बाद हुए स्वस्थ अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि बीते चौबीस घंटे में संक्रमण के 2,728 नये मामले सामने आए हैं। इसी दौरान 3,239 मरीज स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए। इसके साथ ही राज्य में अब तक कुल 4,04,545 मरीज इलाज के बाद पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। मरीजों के तेजी से ठीक होने की वजह से रिकवरी दर अब लगभग 90.42 प्रतिशत हो गई है। अब तक कुल 1.25 करोड़ कोरोना नमूनों की हुई जांच अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि कल कोविड-19 की टेस्टिंग में नया बैंच मार्क स्थापित करते हुए कुल जांच की संख्या सवा करोड़ का आंकड़ा पार किया है। प्रदेश में 30 सितम्बर को कुल टेस्टिंग में एक करोड़ का आकड़ा पार किया था। पिछले 15 दिनों में 25 लाख और टेस्ट किए गए। बुधवार को प्रदेश में एक दिन में कुल 1,54,163 सैम्पल की जांच की गयी। वहीं प्रदेश में अब तक कुल 1,25,09,210 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश कुल टेस्टिंग में देश में प्रथम स्थान पर है। 16,995 मरीजों का होम आइसोलेशन में चल रहा इलाज उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 16,995 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। इसके अलावा अन्य मरीज निजी अस्पतालों व राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। अब तक 2,48,045 मरीजों ने होम आइसोलेशन की सुविधा का विकल्प लिया है, जिनमें से 2,31,050 मरीजों के इलाज का समय पूरा होने के बाद उन्हें डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है। 13.37 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 1,40,456 इलाकों में 4,19,563 टीमों ने 2,70,97,661 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 13,37,13,142 करोड़ से अधिक लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है। ई-संजीवनी के जरिए 1.39 लाख लोगों ने लिया परामर्श इसके साथ ही ई-संजीवनी पोर्टल का प्रदेश के लोग लगातार इस्तमाल कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश में इस पोर्टल का सबसे ज्यादा दैनिक उपयोग किया जा रहा है। इस पोर्टल से घर बैठे डॉक्टरों से सलाह ले सकते हैं। बुधवार को 2,577 लोगों ने इस सुविधा का लाभ उठाया। अब तक कुल 1,39,830 लोग इस पोर्टल के जरिए चिकित्सीय लाभ ले चुके हैं। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/दीपक-hindusthansamachar.in