उप्र की चार क्षेत्रीय खाद्य प्रयोगशालाओं में होगी दवाइयों की जांच
उप्र की चार क्षेत्रीय खाद्य प्रयोगशालाओं में होगी दवाइयों की जांच
उत्तर-प्रदेश

उप्र की चार क्षेत्रीय खाद्य प्रयोगशालाओं में होगी दवाइयों की जांच

news

गोरखपुर, 22 सितंबर (हि.स.)। बाबा राघवदास (बीआरडी) मेडिकल कालेज स्थित क्षेत्रीय खाद्य प्रयोगशाला में अब दवाओं की जांच भी होगी। अब तक इसमे केवल खाद्य पदार्थों की जांच होती रही है। औषधि नियंत्रण प्रणाली के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की घोषणा के बाद वाराणसी, आगरा व मेरठ की प्रयोगशालाओं के साथ गोरखपुर में भी दवाओं की जांच होने का रास्ता खुला है। बीआरडी स्थित अपर निदेशक स्वास्थ्य कार्यालय के बगल में क्षेत्रीय खाद्य प्रयोगाशाला स्थापित है। इसमें अलग-अलग जिलों के खाद्य पदार्थों के नमूने जांच होती है। कुछ दिन पूर्व ही प्रयागराज से जांच के लिए नमूने भी आए थे। लेकिन अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की घोषणा के बाद यहां दवाओं की जांच भी होगी। क्षेत्रीय खाद्य प्रयोगशाला को मुख्यमंत्री के निर्देशन में अपग्रेड करने काम शुरू है। दवाओं की जांच के लिए अलग-अलग मशीनें भी आ गई हैं, जिनके लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। बता दें कि अब तक केवल लखनऊ में ही दवाओं की जांच होती थी। इसकी वजह से लखनऊ प्रयोगशाला पर वर्कलोड ज्यादा था, लेकिन अब प्रदेश के चार जिलों में दवाओं की जांच शुरू होगी तो काफी हद तक लखनऊ प्रयोगशाला पर वर्कलोड कम हो जाएगा। अक्टूबर में शुरू होगी दवाओं की जांच बताया जाता है कि इसी माह के अंत तक प्रयोगशाला पूरी तरह से अपग्रेड कर दिया जाएगा। इसके बाद से खाद्य पदार्थों के साथ दवाओं के नमूनों की जांच भी अक्टूबर माह में ही शुरू होगी। बोले सहायक आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन इस सम्बंध में सहायक आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन श्रवण कुमार मिश्रा ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद काम शुरू हो चुका है। उसके लिए शासन ने बजट स्वीकृत कर दिया है। अक्तूबर माह से खाद्य पदार्थों के साथ दवाओं की जांच भी होगी। कौन से जिले की जांच क्षेत्रीय खाद्य प्रयोगशाला में होगी, इसका चयन शासन को करना है। हिन्दुस्थान समाचार/आमोद/दीपक-hindusthansamachar.in