ईएमटी की सूझबूझ से एम्बुलेंस में गूंजी किलकारी
ईएमटी की सूझबूझ से एम्बुलेंस में गूंजी किलकारी
उत्तर-प्रदेश

ईएमटी की सूझबूझ से एम्बुलेंस में गूंजी किलकारी

news

आजमगढ़, 02 अगस्त (हि.स.)। कोरोना जैसी महामारी के बीच एम्बुलेंस में तैनात ईएमटी (इमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन) भी अपनी जिम्मेदारियों का बखूब पालन कर रहे हैं। ईएमटी के सूझ-बूझ के चलते एक प्रसव पीड़ित महिला ने एम्बुलेंस में ही बच्चे को जन्म दिया। प्रसव के बाद दोनों को सीएचसी में भर्ती कराया गया जहां जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ्य है। जहानागंज थाना क्षेत्र के शाहपुर गांव से रविवार को एक गर्भवती महिला की पीड़ा की सूचना पर 102 नम्बर एम्बुलेंस उसके घर से लेकर जहानागंज सीएचसी के लिए निकली। एम्बुलेंस के पीछे महिला का पति बाइक से आ रहा है। बीच रास्ते में महिला को असहनीय प्रसव पीड़ा होनी शुरू हुई तो एम्बुलेंस को सड़क किनारे रोका गया। एम्बुलेंस में तैनात ईएमटी स्नेहलता पूरी सजगता और सूझ-बूझ से महिला की नार्मल डिलेवरी करायी। ईएमटी का साथ एम्बुलेंस चालक मिथिलेश ने भी दिया। प्रसव कराने के बाद जच्चा और बच्चा को लेकर एम्बुलेंस सीएचसी जहानागंज पहुंची, जहां उनको भर्ती कराया गया। सीएचसी के चिकित्सकों ने जच्चा और बच्चा की जांच की और दोनों को पूर्ण रूप से स्वस्थ्य बताया। इसके बाद परिजनों में खुशी का ठीकाना नहीं रहा है। परिजनों ने एम्बुलेंस कर्मीयों को धन्यवाद दिया व उनकी भूरी-भूरी प्रशंसा की। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/राजेश-hindusthansamachar.in