इलाहाबाद-झांसी स्नातक चुनाव को उम्मीदवारों ने कसी कमर
इलाहाबाद-झांसी स्नातक चुनाव को उम्मीदवारों ने कसी कमर
उत्तर-प्रदेश

इलाहाबाद-झांसी स्नातक चुनाव को उम्मीदवारों ने कसी कमर

news

अटेवा प्रदेश आईटी सेल सह प्रभारी बनाए जाने पर स्वागत प्रयागराज, 05 नवम्बर (हि.स.)। इलाहाबाद-झांसी खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र का नामांकन 05 से 12 नवम्बर तक, 13 नवम्बर को जांच, 17 नवम्बर को नाम वापसी तथा 01 दिसम्बर को मतदान होगा। इसके लिए उम्मीदवारों ने भाग दौड़ एवं जनसम्पर्क अभियान शुरू कर दिया है। अटेवा प्रदेश उपाध्यक्ष एवं इलाहाबाद-झांसी खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवार डॉ.हरि प्रकाश यादव की उपस्थिति में एक बैठक जिला संयोजक अशोक कुमार कनौजिया की अध्यक्षता में सलोरी में हुई। इसमें जिला सोशल मीडिया प्रभारी सैय्यद मोहम्मद दानिश को आईटी सेल प्रदेश सह प्रभारी बनाए जाने पर तथा सुधाकर ज्ञानार्थी को इलाहाबाद झांसी खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र हेतु चुनाव आईटी सेल प्रभारी बनाए जाने पर स्वागत किया गया। डॉ.हरि प्रकाश यादव ने कहा कि शिक्षित बेरोजगार युवाओं तथा शिक्षकों, कर्मचारियों के हितों पर सरकार द्वारा लगातार कुठाराघात किया जा रहा है। जबकि हम सबका प्रतिनिधित्व करने वाले सदन में बैठे सरकारों का यशगान करते रहते हैं। उन्होंने कहा अब पुनः समय आ गया है युवाओं, शिक्षकों कर्मचारियों को अपना प्रतिनिधि चुनने का। हम सब के हक की आवाज को मजबूती के साथ सदन में कौन रख सकेगा ? क्या पेंशन विहीनों की आवाज को सेवानिवृत पेंशनधारी व्यक्ति सदन में पूरी मजबूती के साथ रख सकता है? क्या किसी राजनीतिक दल का कोई सदस्य अपने दल की गाइडलाइन से बाहर जाकर हम सब की आवाज बन सकता है ? कहा कि जब तक पेंशन बहाल नहीं हो जाती तब तक स्वयं मैं पेंशन नहीं लूंगा। जिला संरक्षक सुरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि जब तक पुरानी पेंशन बहाल नहीं हो जाती तथा समस्त विभागों में निजीकरण बंद नहीं हो जाता तब तक अटेवा का संघर्ष जारी रहेगा। सपा से डॉ. मानसिंह यादव उम्मीदवार घोषित विधान परिषद की स्नातक निर्वाचन चुनाव की घोषणा होते ही समाजवादी पार्टी ने अपने प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है। सपा शिक्षक सभा के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष डॉ.मान सिंह यादव को इलाहाबाद-झांसी स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवार घोषित किया गया। डॉ.मानसिंह यादव पब्लिक इंटर कॉलेज मनौरी में अध्यापक हैं और स्थानीय धूमनगंज मुहल्ले में आवास है। शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में नियुक्तियों में धांधली रोके जाने को लेकर लगभग दो वर्षों तक लगातार कार्यालय के सामने अनशन के लिए जाने जाते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त/संजय-hindusthansamachar.in