आजमगढ़ मण्डल के डाकघरों में कोरोना काल में 55 हजार बचत खाते खुले : पोस्टमास्टर जनरल
आजमगढ़ मण्डल के डाकघरों में कोरोना काल में 55 हजार बचत खाते खुले : पोस्टमास्टर जनरल
उत्तर-प्रदेश

आजमगढ़ मण्डल के डाकघरों में कोरोना काल में 55 हजार बचत खाते खुले : पोस्टमास्टर जनरल

news

-पोस्टमास्टर जनरल ने प्रवर डाक अधीक्षक, आजमगढ़ मंडल कार्यालय का किया वार्षिक निरीक्षण वाराणसी, 17 नवम्बर (हि.स.)। वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्रीकृष्ण कुमार यादव ने मंगलवार को बताया कि आज़मगढ़ मण्डल के डाकघरों में कोरोना काल में लगभग 55 हजार बचत खाते, साढ़े तीन हजार लड़कियों के सुकन्या समृद्धि खाते व लगभग 59 हजार इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक खाते खोले गए। प्रवर डाकघर अधीक्षक, आजमगढ़ मंडल कार्यालय के वार्षिक निरीक्षण में आये पोस्टमास्टर जनरल नेे विभिन्न उप मंडलों और डाकघरों के कार्य की समीक्षा भी की। समीक्षा के बाद उन्होंने बताया कि कोरोना काल में ही मंडल के 68 गाँवों में सभी बालिकाओं के खाता खोल उनका सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम बनाया गया। साढ़े तीन हजार लोगों का आधार इनरोलमेंट और 20 हजार लोगों का आधार अपडेट किया गया। उन्होंने बताया कि डाक विभाग नवीनतम तकनीक के साथ जहाँ कस्टमर फ्रेण्डली सेवाएँ लागू कर रहा है। वहीं कोरोना वैश्विक महामारी के दौर में डाककर्मियों ने अपनी जान जोखिम में डालते हुए कोरोना वॉरियर्स के रूप में अहम भूमिका निभाई। दवाओं, मास्क, पीपीई किट्स, वेंटिलेटर से लेकर कोरोना टेस्टिंग किट्स तक जरूरतमंदों और अस्पतालों तक पहुँचाया। यादव ने बताया कि शहर से लेकर गाँव तक लोगों को उनके दरवाजे पर ही बैंक खातों से नकदी निकालकर देने का अभूतपूर्व कार्य किया गया। उन्होंने बताया कि अब डाकिए के हाथ में स्मार्ट फोन है और बैग में एक डिजिटल डिवाइस भी है। यादव ने बताया कि, कोरोना संक्रमण के इस दौर में आमजन को विभिन्न सेवाओं के लिए भटकना न पड़े और सारी सेवाएं एक ही छत के नीचे उपलब्ध हो सकें, इसके लिए अब डाकघरों में भी काॅमन सर्विस सेंटर की स्थापना की जा रही है। यहां एक साथ केंद्र व विभिन्न राज्य सरकारों की 73 सेवाएँ मिलेंगी। खास बात यह है कि अब पेंशनरों को जीवित प्रमाणपत्र जमा करने के लिए कोषागार या बैंक जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, बल्कि घर बैठे डाकिया के माध्यम से बायोमेट्रिक डिवाइस द्वारा डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट जारी करवा सकते हैं। इसके लिए मात्र 70 रुपये का शुल्क निर्धारित किया गया है। कार्यालय के निरीक्षण के बाद पोस्टमास्टर जनरल ने प्रवर डाक अधीक्षक कार्यालय में रिकार्ड के समुचित रख-रखाव एवं स्वच्छता पर भी जोर दिया। इसके पहले आजमगढ़ मण्डल के प्रवर अधीक्षक डाकघर योगेंद्र मौर्य ने मण्डल में डाक सेवाओं की प्रगति की जानकारी दी। योगेन्द्र मौर्य ने बताया कि आज़मगढ़ व मऊ प्रधान डाकघरों में कॉमन सर्विस सेंटर शुरू होने के बाद शीघ्र ही अन्य डाकघरों में इसे आरम्भ किया जाएगा। आजमगढ़ डाक मण्डल में ग्राहकों से संवाद कर एवं मेले व कैम्प का लगाकर विभिन्न क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा व्यवसाय अर्जित किया जायेगा। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर-hindusthansamachar.in