अनुसूचित जाति के प्रमाण पत्र निर्गत ना किए जाने को धनकर समाज ने मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन
अनुसूचित जाति के प्रमाण पत्र निर्गत ना किए जाने को धनकर समाज ने मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन
उत्तर-प्रदेश

अनुसूचित जाति के प्रमाण पत्र निर्गत ना किए जाने को धनकर समाज ने मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

news

औरैया, 14 अक्टूबर (हि.स.)। जिले में धनगर समाज को अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र निर्गत न किए जाने को लेकर मंगलवार को धनगर समाज के लोगों ने इस संबंध में मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन अपर जिला धिकारी रेखा ऐस चौहान को दिया। ज्ञापन में कहा गया कि, औरैया में निवासरत धनगर जाति के अभ्यर्थियों द्वारा धनगर अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र बनवाए जाने के लिए आवेदन किए जाते हैं तो एकल अधिकारी द्वारा आवेदनों के सत्यापन के समय शासन द्वारा प्रदत्त व्यवस्था के विपरीत आवेदक गड़रिया जाति का है बता कर आवेदन निरस्त कर दिये जाते है। जबकि भारतीय संविधान के अनुच्छेद 341 के अंतर्गत जाति, उपजाति, मूलवंश, जनजातीय समुदाय का जनजाति समुदाय वर्ग या भाग को अनुसूचित जाति के रूप में अधिसूचित किए जाने की व्यवस्था है। इसके बावजूद स्थानीय स्तर पर एकल अधिकारी द्वारा इन्हें बराबर निरस्त किया जा रहा है। मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में धनगर जाति के लोगों को अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र जारी किया जाए। ज्ञापन देने वालों में संजू पाल, नरेन्द्र पाल, पूर्व जिलापंचायत सदस्य केवल सिंह, रघुराज सिंह, अनिल कुमार, अमित, नवीन पाल आदि उपस्थित रहें। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील/मोहित-hindusthansamachar.in