अधिवक्ता से पुलिसकर्मियों ने की मारपीट, एनकाउंटर की दी धमकी
अधिवक्ता से पुलिसकर्मियों ने की मारपीट, एनकाउंटर की दी धमकी
उत्तर-प्रदेश

अधिवक्ता से पुलिसकर्मियों ने की मारपीट, एनकाउंटर की दी धमकी

news

बागपत, 24 जुलाई (हि.स.)। बागपत जिले में अधिवक्ता के साथ चांदीनगर थाना पुलिस ने गाली-गलौज कर मारपीट की तथा एनकाउंटर की धमकी दी। पांच हजार रुपए लेने के बाद ही उनको थाने से छोड़ा गया। इस घटना के विरोध में अधिवक्ता एसपी से मिले और कार्रवाई की मांग की। जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष बिजेंद्र सिंह तोमर व महामंत्री अतुल प्रशांत त्यागी के नेतृत्व में अधिवक्ता शुक्रवार को एसपी दफ्तर पहुंचे। उनके साथ आए पीड़ित अधिवक्ता लईक अहमद ने बताया कि वह अपने चाचा इरशाद व चाची कलसुम के साथ गत 22 जुलाई की रात करीब 11.45 बजे मुजफ्फरनगर में शादी समारोह में हिस्सा लेकर गाड़ी से ग्राम गौना में अपने घर लौट रहे थे। पिलाना-बंथला मार्ग पर ग्राम ढ़िकौली के मोड़ पर पहुंचे तो चांदीनगर थाना पुलिस ने उनको रोक लिया और देर से आने के बारे में पूछा। आरोप है कि परिचय देने के बाद भी पुलिसकर्मियों ने गाली-गलौज, अभद्रता करते हुए मारपीट की और थाने ले गए। वहां पर भी उनके साथ गाली-गलौज की गई। इतना ही नहीं एनकाउंटर की धमकी दी गई। आरोपित पुलिसकर्मी नशे की हालत में थे। आरोप है कि चाचा के आग्रह करने पर पुलिसकर्मियों ने पांच हजार रुपए लेकर छोड़ा। इससे अधिवक्ताओं में पुलिस के प्रति रोष है। उन्होंने एसपी से आरोपित पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की। इस मौके पर एडवोकेट सोमेंद्र ढ़ाका, शक्ति सिंह, संजय पंवार, सचिन कुमार, अमित चैधरी आदि मौजूद रहे।एसपी अजय कुमार सिंह ने खेकड़ा सीओ दिलीप सिंह को मामले की जांच सौंपी है। चांदीनगर थाना प्रभारी मुनेंद्र सिंह का कहना है कि चेकिंग के दौरान अधिवक्ता की गाड़ी को रोका गया था। जानकारी करने के बाद छोड़ दिया गया था। पुलिस पर लगाए गए आरोप गलत है। हिन्दुस्थान समाचार/गौरव साहनी-hindusthansamachar.in