अंत्योदय में गड़बड़ी, एआरओ और लिपिक को डीएम ने किया निलंबित

अंत्योदय में गड़बड़ी, एआरओ और लिपिक को डीएम ने किया निलंबित
अंत्योदय में गड़बड़ी, एआरओ और लिपिक को डीएम ने किया निलंबित

मऊ, 25 जुलाई (हि.स.)। जिले के जिलापूर्ति कार्य़ालय के दो कर्मचारियों को जिलाधिकारी ने निलंबित कर दिया है। डीएम ने लिपिक और एआरओ को निलंबित कर तत्काल प्रभाव से स्थानांतरण का भी आदेश दिया है। अंत्योदय व पात्र गृहस्थी राशनकार्ड में लिंक्ड आधार कार्ड फर्जी मिलने पर कार्रवाई किया गया। जिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि शासन के विशेष जांच में जनपद में सम्बद्ध अंत्योदय के 260 राशनकार्ड के 561 यूनिट, पात्र गृहस्थी के 1107 राशनकार्ड के 4992 यूनिट में लिंक्ड आधार कार्ड फर्जी व डुप्लीकेट पाए जाने पर उन्हें निरस्त कर दिया गया है। साथ ही इन कार्डो की फीडिंग और सत्यापन जिन अधिकारियों के डिजिटल सिग्नेचर से जारी किया गया है। उनको निलंबित कर उनके विरुद्ध कार्रवाई हेतु पत्रावली प्रस्तुत करने के निर्देश दिया गया है। इस आदेश का पालन करते हुए जिला पूर्ति अधिकारी को आदेश दिया गया है कि जब से उक्त राशन कार्ड जारी है। तब से मात्रकृत वितरण की आख्या शीघ्र प्रस्तुत करे। जिससे अग्रेत्तर कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके। साथ ही जिलापूर्ति विभाग में तैनात रामाश्रय प्रसाद एआरओ एवं धीरज लिपिक को तत्काल स्थानांतरण एवं उनको निलम्बित की कार्रवाई की गयी। बतादें कि जिला पूर्ति विभाग में गरीबों के राशन के साथ खिलवाड़ आये दिन किया जाता है। इसी क्रम में एक बार फिर शासन के विशेष जांच में राशन का फायदा लेने के लिए फर्जी तरीके से बनाने गये राशन कार्ड का भंडाफोङ हुआ है। फिलहाल दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही फर्जी राशन कार्डों के निरस्त कर दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/वेद/उपेन्द्र/मोहित-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.