कारगील विजय दिवस पर राज्यपाल का संदेश
कारगील विजय दिवस पर राज्यपाल का संदेश
सिक्किम

कारगील विजय दिवस पर राज्यपाल का संदेश

news

गंगटोक, 25 जुलाई (हि. स.)। 21वीं कारगील विजय दिवस के अवसर पर सिक्किम के राज्यपाल गंगा प्रसाद ने कारगील के शहीदों के पराक्रम और शौर्यता को नमन करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की है। शनिवार को जारी एक संदेश में राज्यपाल ने कहा कि संपूर्ण देश उन वीर सपूतों को आज याद कर रहा हैं जिन्होंने मातृभूमि की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया। मैं उन वीर सपूतों तथा सभी शहीदों के माताओं को भी कोटि-कोटि प्रणाम करता हूं जिन्होंने पराक्रम योद्धाओं को जन्म दिया हैं। भारतीय सैनिकों के पराक्रम, वीरता, शौर्य और समर्पण का परिचायक ही है कारगील विजय दिवस। राज्यपाल ने कहा है कि आज मैं जम्मू-कश्मीर (कारगिल) के स्थानीय निवासियों का भी अभिनन्दन करना चाहता हूं, जिन्होंने उस विषम परिस्थिति में भी अपने राष्ट्र प्रेम और नागरिकता धर्म का सफल निर्वहन किया। कारगील विजय दिवस भारत के सम्मान और अनुशासन की जीत के साथ-साथ प्रत्येक भारतीय के कर्तव्य से जुड़ी आशाओं और समर्पण की जीत हैं। उन्होंने कहा है कि इस जीत ने हम सभी भारतीयों को गौरवान्वित भी किया हैं। राष्ट्र के सीमाओं की रक्षा अर्थात राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति भारतीय सैनिकों की वचनबद्धता और कटिबद्धता को मैं सलाम कर गर्व महसुस करता हूं। उन्होंने कहा है कि 1999 में तत्कालीन प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्त्व में ही कारगील के “ऑपरेशन विजय” में पाकिस्तान को परास्त कर विजय हासिल किया था। बाजपेयी जी ने सैनिकों के मनोबल को ऊँचा करने के लिए कई अहम निर्णय लिये थे। हिन्दुस्थान समाचार/बिशाल-hindusthansamachar.in