मनाई गई डॉ अंबेडकर जयंती, अधिकारियों की कम उपस्थिति से मुख्यमंत्री नाराज

मनाई गई डॉ अंबेडकर जयंती, अधिकारियों की कम उपस्थिति से मुख्यमंत्री नाराज
dr-ambedkar-jayanti-celebrated-chief-minister-annoyed-by-low-attendance-of-officials

गंगटोक, 14 अप्रैल (हि. स.)। सिक्किम की राजधानी गंगटोक स्थित विधानसभा परिसर में आज भारत रत्न डॉ. भीमराव रामजी अंबेडकर की 130वीं जयंती मनाई गई। मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में विधानसभा उपाध्यक्ष सांगे लेप्चा, कैबिनेट मंत्रियों, विधायकगण, मुख्य सचिव एससी गुप्ता तथा अन्य गणमान्य लोग शामिल हुए। मुख्यमंत्री तमांग ने सिक्किम विधानसभा परिसर में डॉ भीमराव रामजी अंबेडकर की प्रतिमा पर श्रद्धांजलि अर्पित की। इसी तरह, विधानसभा के उपाध्यक्ष सहित कैबिनेट मंत्रियों और अन्य गणमान्य लोगों ने भी भारतीय संविधान के निर्माता को श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री तमांग ने अपने संबोधन में कहा कि अंबेडकर जयंती आज देश और दुनिया के कई हिस्सों में उनके द्वारा राष्ट्रीय हित में किए गए नि:स्वार्थ योगदान के लिए मनाई जाती है। डॉ. अंबेडकर एक प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ थे, जिन्होंने सामाजिक रूप से पिछड़े वर्गों के अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ी। उन्हें एक प्रसिद्ध समाज सुधारक भी माना जाता है, जिन्होंने पिछड़े वर्गों के विरूद्ध असमानता, अन्याय और भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाई। मुख्यमंत्री तमांग ने कहा कि बाबासाहेब अम्बेडकर ने भेदभव रहित समाज के लिए अथक परिश्रम किया। उनके मूल्यों और मान्यताओं को हमारे दैनिक जीवन में एक आदत बनाना ऐसे महान व्यक्ति को एक सच्ची श्रद्धांजलि होगी। दूसरी ओर, मुख्यमंत्री तमांग ने कार्यक्रम में सरकारी विभागों के प्रमुखों की कम उपस्थिति पर निराशा व्यक्त की। उन्होंने कार्यालयों में विभागीय प्रमुखों की अनुपस्थिति और सार्वजनिक कार्यों में शिथिलता के लिए भी अधिकारियों कड़ी चेतावनी दी। उन्होंने विभागीय प्रमुखों को सुबह 10 से शाम 4:30 बजे तक कार्यालय में उपस्थित रहने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि ऐसे अधिकारियों को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले लेना चाहिए जो काम नहीं करना चाहते है। उन्होंने ऐसे अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी भी दी। उन्होंने कहा कि मानसिकता, कार्य संस्कृति और मूल्यों की प्रगति से समाज समृद्ध और सशक्त होगा। मुख्यमंत्री तमांग में 130वीं भीम जयंती समारोह समिति, अखिल सिक्किम अनुसूचित जाति कल्याण संघ द्वारा प्रकाशित 'भीमा स्मारिका' नामक एक पत्रिका का विमोचन भी किया। समारोह समिति ने मुख्यमंत्री तमांग को समाज के प्रति उनके अथक योगदान के लिए सम्मानित किया। हिन्दुस्थान समाचार/बिशाल