work-together-for-the-creation-of-prosperous-prosperous-and-healthy-rajasthan---governor
work-together-for-the-creation-of-prosperous-prosperous-and-healthy-rajasthan---governor
राजस्थान

खुशहाल, समृद्ध और निरोगी राजस्थान के निर्माण के लिए मिलजुल कर कार्य करें- राज्यपाल

news

जयपुर, 25 जनवरी(हि.स.)। राज्यपाल कलराज मिश्र और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 72वें गणतंत्र दिवस पर देश-प्रदेशवासियों और सरहद पर तैनात जांबाज जवानों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। गणतंत्र दिवस पर प्रदेशवासियों के नाम अपने संदेश में राज्यपाल मिश्र ने खुशहाल, समृद्ध और निरोगी राजस्थान के निर्माण के लिए मिलजुल कर कार्य करने का आह्वान किया है। उन्होंने राष्ट्र के लिए सर्वोच्च बलिदान करने वाले ज्ञात- अज्ञात शहीदों को नमन करते हुए आजादी के लिए सर्वस्व समर्पण करने वाले स्वतन्त्रता सेनानियों के त्याग एवं संघर्ष के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि 72 वें गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर मैं प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं। विश्व के सबसे बडे़ लोकतांत्रिक देश भारत की आजादी के लिए लम्बा संघर्ष रहा है। आजादी की लड़ाई में सर्वस्व बलिदान करने वाले अमर शहीदों को मैं विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं, साथ ही आज भी हमारा मार्गदर्शन कर रहे स्वतंत्रता सेनानियों को नमन करते हुए उनके स्वस्थ और सुदीर्घ जीवन की कामना करता हूं। राष्ट्र की एकता और अखण्डता को बनाये रखने के लिए शहादत देने वाले जांबाज सैनिकों, अर्द्धसैनिक बलों के जवानों तथा पुलिसकर्मियों को मैं तहेदिल से श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं साथ ही अन्तर्राष्ट्रीय सीमा की सुरक्षा के लिए तैनात जवानों को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं। मिश्र ने गणतंत्र दिवस के इस पावन अवसर पर देश में लोकतंत्र को मजबूत करने वाले सभी महान् नेताओं का आदर के साथ स्मरण करते हुए कहा कि आज के दिन हमें संविधान के अनुरूप आचरण करने के संकल्प को दोहराने की आवश्यकता है। इस अवसर पर राज्य सरकार के विकास कार्यों का उल्लेख करते हुए राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश के विकास और प्रगति के लिए राज्य सरकार पारदर्शी, जवाबदेह एवं संवेदनशीलता के संकल्प के साथ कार्य कर रही है। सरकार सभी वर्गों और विशेषतः महिलाओं, बच्चों, युवाओं, वरिष्ठ नागरिकों, अनुसूचित जाति-जनजाति, अन्य पिछड़ा, अल्पसंख्यक व दिव्यांग वर्ग तथा किसानों, श्रमिकों व छोटे व्यापारियों के कल्याण व उत्थान के लिए निरन्तर कार्य कर रही है। राज्य सरकार आधारभूत सुविधाओं के साथ ही कृषि व पशुपालन, औद्योगिक विकास, व्यापार, श्रम व रोजगार, ग्रामीण विकास, सहकारिता, नगरीय विकास, चिकित्सा, शिक्षा, बिजली, पानी, सड़क, परिवहन, खाद्य सुरक्षा, आधारभूत संरचना, सूचना तकनीकी, पर्यटन एवं सामुदायिक सेवाओं सहित सभी क्षेत्रों में त्वरित विकास हेतु निरंतर जुटी हुई है। कोरोना काल के दौरान राज्य सरकार के प्रबंधन की सराहना करते हुए राज्यपाल ने कहा कि मुझे यह बताते हुए गर्व है कि राज्य सरकार के शानदार कोरोना प्रबंधन से राजस्थान को देश में माॅडल के रूप में सराहना मिली है। सभी जिलों के सरकारी अस्पतालों में कोरोना की निःशुल्क जांच व इलाज की सुविधा प्रदान कर हैल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत किया गया। आक्सीजन बेड, आईसीयू बेड, वेंटिलेटर्स, ऑक्सीजन प्लांट्स आदि में बडे़ पैमाने पर वृद्धि की गई है। राज्य में कोरोना टेस्ट के लिए सेम्पलस बाहर भेजे जाते थे आज सभी 33 जिलों में कोरोना की जांच सुविधा उपलब्ध करवाई जा चुकी है एवं जांच क्षमता प्रतिदिन 60 हजार हो चुकी है। पोस्ट कोविड क्लिनिक्स भी संचालित किए जा रहे हैं। यह सुखद है कि अब कोरोना की वैक्सीन आ चुकी है। हैल्थकेयर वर्कर्स को प्राथमिकता से वैक्सीन लगाई जा रही है। इसके पश्चात फ्रंटलाइन कोरोना वाॅरियर्स, बुजुर्गों व अन्य बीमारियों से ग्रसित लोगों को प्राथमिकता क्रम से वैक्सीन लगाई जायेगी। जन भागीदारी से वैक्सीनेशन मिशन में भी राजस्थान को माॅडल राज्य बनाया जायेगा। राज्यपाल मिश्र ने कहा कि महात्मा गांधी के आदर्शों के अनुरूप शान्ति, सांप्रदायिक सद्भाव और आपसी भाईचारे की भावना हमारे प्रदेश की विशिष्ट पहचान रही है। समृद्ध और विकसित प्रदेश के निर्माण के लिए हमें हमारी इस विरासत को और मजबूत बनाने की आवश्यकता है। गणतन्त्र दिवस के पुनीत पर्व पर हम सब राजस्थान के ऐतिहासिक गौरव एवं आत्मसम्मान को सर्वोपरि मानकर खुशहाल, समृद्ध और निरोगी राजस्थान के निर्माण के लिए मिलजुल कर कार्य करने का संकल्प लें। मुख्यमंत्री की शुभकामनाएं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गणतंत्र दिवस के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह राष्ट्रीय पर्व संवैधानिक मूल्यों में लोगों की आस्था का प्रतीक है। आज के दिन हम सभी देशवासी भारतीय लोकतंत्र को सशक्त बनाने तथा इस मुल्क को एक एवं अखंड रखने का संकल्प लें। मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों का आह्वान किया कि सभी मिलकर चुनौतियों का सामना करते हुए देश-प्रदेश को प्रगति के पथ पर आगे बढ़ाने के लिए समर्पित भाव से कार्य करें। हिन्दुस्थान समाचार/संदीप/ ईश्वर-hindusthansamachar.in