राजस्थान में फिर बिगड़ सकता है मौसम

राजस्थान में फिर बिगड़ सकता है मौसम
weather-in-rajasthan-may-again-worsen

अजमेर, 14 अप्रैल(हि.स.)। राजस्थान में एक बार फिर मौसम बिगड़ने का अनुमान है। अजमेर में सुबह से बादल छाए रहे। धूल भी आसमान में चढ़ी रही। सूर्य के तेवर ढ़ीले थे। तापमान में नमी रही। मौसम विभाग के अनुसार राज्य में 15 व 16 अप्रैल को पश्चिमी राजस्थान के साथ-साथ पूर्वी राजस्थान के कई जिलों में तेज अंधड़ चलने के साथ कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर और जोधपुर संभाग में 50-60 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से तेज अंधड़ चलने की आशंका जताई है। मौसम विभाग जयपुर के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि राजस्थान में अगले 3 दिन एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ आएगा। इसका सबसे ज्यादा प्रभाव पश्चिमी राजस्थान में देखने को मिलेगा। उन्होंने बताया कि 15 अप्रैल को बीकानेर, जोधपुर संभाग के बीकानेर, जैसलमेर, नागौर, हनुमानगढ़, गंगानगर जिलों में तेज अंधड़ चलने की आशंका है, जिसकी अधिकतम गति 50 से 60 किलोमीटर तक हो सकती है। इसके अलावा कुछ इलाकों में गरज-चमक के साथ हल्की बूंदाबांदी के आसार हैं। मौसम के इस प्रभाव से आगामी दो दिन तक प्रदेश के लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी। अधिकांश शहरों में दिन और रात के तापमान में 2-3 डिग्री तक की गिरावट हो सकती है। जयपुर, भरतपुर में 16 अप्रैल को बिगड़ेगा मौसम पश्चिमी विक्षोभ का 16 अप्रैल को पश्चिमी राजस्थान के साथ-साथ पूर्वी राजस्थान के जयपुर, भरतपुर और अजमेर संभाग के जिलों पर प्रभाव दिखेगा। यहां टोंक, सवाई माधोपुर, दौसा, सीकर, अजमेर, अलवर, झुंझुनूं और धौलपुर जिले में 40-50 किलोमीटर की गति से तेज आंधी चलने की आशंका है। 16 अप्रैल को मौसम का ये प्रभाव पश्चिमी राजस्थान में ज्यादा प्रभावी रहने की आशंका है, यहां भी बीकानेर, जोधपुर संभाग के जिलों में तेज अंधड़ चलने की आशंका है। किसानों के लिए अलर्ट मौसम विभाग ने 16 से 18 अप्रैल तक पूर्वी और पश्चिमी राजस्थान के किसानों के लिए भी अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने कहा है कि अगर इन एरिया में किसानों की फसल कटकर खेतों या मंडियों में खुली पड़ी है, तो उसे सुरक्षित भंडारण स्थानों पर रखें। आंधी के साथ-साथ होने वाली हल्की बारिश से पकी फसलों को नुकसान पहुंच सकता है। भरतपुर रहा सबसे गर्म राजस्थान में मंगलवार को कई इलाकों में तेज गर्मी पड़ी। सबसे गर्म इलाका भरतपुर रहा, जहां अधिकतम तापमान 43.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। इसके अलावा करौली 43.1, चूरू 43, जैसलमेर 42.5, बाड़मेर 42.3, बीकानेर 41.8, कोटा 41.1, टोंक 41.6, गंगानगर 40.1, जोधपुर 42.6, चित्तौड़गढ़ 41. और जयपुर में अधिकतम तापमान 40.6 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज हुआ। हिन्दुस्थान समाचार/संतोष/संदीप