Vaccine reached Jodhpur under tight security as Corona era
Vaccine reached Jodhpur under tight security as Corona era
राजस्थान

कोरोना का काल बनकर कड़े सुरक्षा घेरे में जोधपुर पहुंची वैक्सीन

news

जोधपुर, 14 जनवरी (हि.स.)। खौफ के साए में जी रहे जोधपुर के लोगों को कोरोना से निजात दिलाने के लिए वैक्सीन के करीब 36 हजार डोज की पहली खेप गुरुवार शाम जोधपुर पहुंची। जयपुर से कड़े सुरक्षा घेरे में लाई गई वैक्सीन की पहली खेप को सीएमएचओ डॉ. बलवंत मंडा ने ग्रहण किया। शहर विधायक मनीषा पंवार ने पूजा अर्चना की। इसके बाद वैक्सीन को सुरक्षित रखवा दिया गया। वैक्सीनेशन को लेकर यहां तीन बाद ड्राई रन किया जा चुका है। पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कोविशील्ड वैक्सीन के बॉक्स को लेकर डिप्टी सीएमएचओ डॉ. प्रीतमसिंह सांखला के नेतृत्व में एक टीम आज शाम जयपुर से लेकर जोधपुर पहुंची। यहां जोधपुर में वैक्सीन को झालामंड स्थित संयुक्त निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कार्यालय में बने स्टेट वैक्सीन स्टोर पर रखा गया। यहां पर डॉ. मंडा ने इसे ग्रहण कर सुरक्षित रखवा दिया। जोधपुर में आज 36,060 डोज पहुंची है। इसे प्राथमिकता के साथ सबसे पहले हैल्थ वर्करों के लगाया जाएगा। दो दिन बाद 16 जनवरी को वैक्सीन लगाने का कार्य शुरू होगा। जोधपुर में वैक्सीन लगाने के लिए पहले 12 सेंटर चिह्नित किए गए थे लेकिन अब इनकी संख्या घटाकर नौ कर दी गई है। हैल्थ वर्करों की कुल संख्या से दस फीसदी अतिरिक्त वैक्सीन मंगाई गई है। जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह ने बताया कि नई गाइडलाइन के अनुसार तैयारियों को फिर से देखा जा रहा है। लाभार्थियों का डाटा फिर से अवलोकन कर फ्रीज किया जा रहा है। झालामंड स्थित कोल्ड स्टोरेज की क्षमता स्टेट कोल्ड चेन के बराबर बढ़ाई जा चुकी हैं। पहले चरण में रखने के लिए पास पर्याप्त जगह है। आरसीएचओ डॉ. कौशल दवे के बताया कि नई गाइडलाइन के अनुसार पहले से तय 12 सेंटर में से 9 का चयन होगा। फिर इन सेंटर्स पर सप्ताह में चार दिन टीका लगाया जाएगा, ताकि सप्ताह में दो दिन होने वाले नियमित टीकाकरण प्रभावित ना हो। हैल्थ लाइन वर्करों को लगेगी वैक्सिन: जोधपुर में पहले चरण में कोविड वैक्सीन सिर्फ फ्ंट लाइन हैल्थ वर्करों के लगाई जाएगी। हैल्थ वर्कर सबसे अधिक जोखिम उठा कोरोना पीडि़तों का इलाज कर रहे है। ऐसे में उन्हें प्राथमिकता से वैक्सीन लगाई जाएगी। हैल्थ वर्करों में वैक्सीन को लेकर किसी प्रकार की कोई भ्रांति नहीं रहे इसे ध्यान में रख पहली वैक्सीन सीएमएचओ डॉ. बलवंत मंडा स्वयं लगवाएंगे। इसके बाद अन्य हैल्थ वर्करों के वैक्सीन लगाई जाएगी। विभाग ये कार्य चिकित्साकर्मियों का कांफिडेंस बढ़ाने के लिए करेगा। सीएमएचओ डॉ. मंडा ने बताया कि कोविड वैक्सीनेशन में किसी प्रकार के साइड इफैक्ट नहीं हंै। कोविड वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना से बचाव होगा। सभी लाभार्थी अपने मन में किसी प्रकार का संशय नहीं रखे। सभी कोविड वैक्सीनेशन में सहयोग करें। बहुत बड़ा टास्क है, जिसे सभी को मिलजुलकर पूरा करना होगा। इसमें स्टाफ व शहरवासियों के सहयोग की दरकार है। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश-hindusthansamachar.in