unhappy-over-not-having-a-son-a-woman-died-in-a-stitch-with-two-innocent-daughters
unhappy-over-not-having-a-son-a-woman-died-in-a-stitch-with-two-innocent-daughters
राजस्थान

बेटा नहीं होने से आहत महिला ने दो मासूम बेटियों के साथ टांके में कूदकर दी जान

news

बाड़मेर, 05 अप्रैल (हि. स.)। बाड़मेर के गुड़ामालानी थाना क्षेत्र में सोमवार को एक बार फिर सामूहिक आत्महत्या का बड़ा मामला सामने आया। थाना क्षेत्र के रतनपुरा में एक महिला ने अपनी दो बेटियों के साथ पानी से भरे टांके में कूद कर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी मिलने पर गुड़ामालानी थाना पुलिस घटना स्थल पहुंची। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से तीनों शव को टांके से बाहर निकाला और गुड़ामालानी स्वास्थ्य केंद्र की मोर्चरी में रखवाकर परिजनों को सूचना दी। पुलिस की सूचना पर परिजन मोर्चरी पहुंचे और दोनों पक्षों की मौजूदगी में मामला दर्ज किया गया है। आत्महत्या की इस घटना में कपिला (22) पत्नी किशना राम, कबीरा (4) और तनुजा (2) महीने की मौत हो गई। पुलिस ने दोनों पक्षों से घटना के बारे में विस्तार से जानकारी ली है, वहीं परिजनों की रिपोर्ट के बाद शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिए है। पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने बताया कि गुड़ामालानी क्षेत्र के रतनपुरा इलाके में एक महिला के अपनी दो मासूम बेटियों के साथ टांके में कूदकर जान देने की सूचना मिली थी। इस पर मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से शवों को बाहर निकलवा कर स्वास्थ्य केंद्र की मोर्चरी में रखवाया। उन्होंने बताया कि पीहर पक्ष ने किसी पर संदेह नहीं जताते हुए रिपोर्ट पेश की है। प्रथम दृष्टया यह बात सामने आई है कि महिला की 5-6 साल पहले शादी हुई थी और उसे दो बेटियां थीं। बेटा नहीं होने की वजह से वह मानसिक रूप से परेशान थी। परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर मामला दर्ज कर जांच की जा रही है, जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप